Tuesday, Jan 23, 2018

फ्रेशरों को दे रही हैं कंपनियां मौका, इन शीर्ष स्टार्टअप कंपनियों ने जमकर की भर्तियां

  • Updated on 12/6/2017

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश की स्टार्टअप कंपनियां इन दिनों भर्ती अभियान पर हैं। इसके साथ ही स्टार्टअप कंपनियों की ओर से की गई नियुक्तियों की अधिकतर पेशकश नए उम्मीदवारों के लिए हैं। नौकरी क्षेत्र से जुड़े वैश्विक पोर्टल इनडीड के ताजा आंकड़ों के मुताबिक  नियुक्तियों में करीब 90 प्रतिशत हिस्सेदारी स्नैपडील, पेटीएम, शॉपक्लू और फ्लिपकार्ट जैसी प्रमुख स्टार्टअप कंपनियों की है।     

बिटकॉइन में फिर रिकॉर्ड तोड़ बढ़त, RBI ने कहा न करें निवेश

इनडीड इंडिया के प्रबंध निदेशक शशि कुमार ने कहा कि इनडीड के नवीनतम अध्ययन से पता चला है कि स्टार्टअप कंपनियों द्वारा की गई नियुक्तियों में आधी से अधिक (57 प्रतिशत) नौकरियां फ्रैशर (नए उम्मीदवारों) के लिए हैं। यह लाखों की संख्या में मौजूद फ्रैशरों के लिए उत्साहजनक बात है, जो नई कंपनियों के साथ अपना करियर शुरू करना चाहते हैं।

नोटबंदी के बाद भी हुई 2100 करोड़ की हेराफेरी, केंद्र सरकार ने उठाया ये कदम

इसमें कहा गया है कि भारतीय ई-कॉमर्स बाजार के 30 प्रतिशत की वाॢषक दर से आगे बढ़ने की उम्मीद है और 2026 तक इसका मूल्यांकन 200 अरब डॉलर हो जाएगा। स्नैपडील, शॉपक्लू और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां कारोबार को  लेकर उत्साहित है।  इसके साथ ही पेटीएम और जोमाटो जैसे डिजिटल सेवा प्रदाता कंपनियां भी तेजी से आगे बढ़ रही हैं।

कुल नियुक्तियों में स्नैपडील ने 53 प्रतिशत नियुक्तियां कीं। इसके बाद पेटीएम (23 प्रतिशत), शॉपक्लू (11 प्रतिशत) फ्लिपकार्ट (4 प्रतिशत), जोमाटो (4 प्रतिशत), ओला कैब (3 प्रतिशत) और इन मोबी (2 प्रतिशत) समेत अन्य कंपनियां शामिल हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.