जिंदगी-मौत से जूझ रही टीचर चाहती है अपने पति से तलाक

Navodayatimesनई दिल्ली/ब्यूरो। 90 फीसदी जलने के बाद मौत से लड़ रही संगीता वर्मा (36) पति से तलाक चाहती है। उसको जलाने का आरोप उसके पति पर ही है। गाजियाबाद की इस सनसनी खेज घटना के बाद से पीड़िता का पति फरार है। महिला को अपनी जान की परवाह नहीं है, बस वह तलाक के रूप में इंसाफ चाहती है।

पंजाब: गुरदासपुर में भरे बाजार में गैंगवार, गोली लगने से दो लोगों की मौत

पीड़िता लगातार 15 साल से पति से तलाक लेने के लिए अपने पिता से कहती रही है। लेकिन उसके मायके वाले समाज और लोकलाज की बात कह कर उसे रोक देते थे। आज जब वह सफदरजंग अस्पताल में पूरे शरीर पर बंधी हुई पट्टियों के साथ बेड पर है तब भी पति से तलाक की गुहार लगा रही है।

महिला एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका है। उसकी शादी करीब 15 साल पहले गाजियाबाद, स्वरूप पार्क में रहने वाले संजीव से हुई थी। उसके दो बच्चे भी हैं। 13 साल की बेटी अवनी और एक वर्ष का बेटा आकाश। पर शादी के बाद से ही उसका पति और ससुराल के लोग लगातार उसपर दहेज के लिए दबाव बनाते थे। उसका पति शराब का आदि है। ऐसे में आए दिन उसके साथ बेरहमी से पिटाई भी करते थे। जब संगीता खुद का व अपनी बेटी का खर्च खुद वहन करती थी। ऐसे में महिला ने कई बार अपने मायके वालों से पति से तलाक दिलाने की बात भी की थी। पर सामाजिक दबाव के कारण हर बार मायके के लोगों ने उल्टा उसे सामझौता कर रहने नाम पर शांत करा दिया।

पीड़िता के भाई प्रदीप ने बताया कि आरोपी संजीव और उनकी बहन के बीच विवाद जून 2016 में तब बढ़ गया जब उन्हें एक जमीन अधिग्रहण मामले में सरकार से अच्छी रकम मिली थी। इसकी जानकारी संजीव को मिलने के बाद उसने संगीता पर 25 लाख रुपये दहेज के रूप में देने का दबाव बनाने लगे। इसे लेकर आए दिन दोनों के बीच झगड़ा ही नहीं होता था, बल्कि उसकी पिटाई भी करते थे। इस दौरान संगीता की सास रामभूली और ससुर रिछपाल भी उन्हें मानसिक रूप से प्रताडि़त करते थे।

 नाबालिग के साथ पिता ने दुष्कर्म किया

जानकारी मिलने पर संगीता के भाई ने संजीव को एक लाख रुपये भी दिए थे। पर उसके लालच में कमी नहीं आई। इसी दौरान 13 अप्रैल को मायके से रुपये मंगवाने को लेकर दोनों के बीच फिर से झगड़ा हुआ। झगड़ा इतना बढ़ गया कि उसने मिट्टी तेल डाल उसे जला दिया।

यही नहीं जलने से घायल संगीता को अस्पताल में ले जाने के बजाय उन्होंने मायके के लोगों को फोन कर हादसे में घायल होने की बात कही। मायके के लोगों ने वहां पहुंच संगीता को अस्पताल में भर्ती कराया। प्रदीप ने पुलिस में संजीव, उसके पिता और मां पर दहेज प्रताडऩा का मामला दर्ज कराया है। इसके बाद से ही तीनों फरार हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr