शहर में बदमाशों और चोरों का आतंक फिर भी बॉर्डर सुस्त

Navodayatimesनई दिल्ली/ पंकज मद्धेशिया। टीएचए की सड़के इन दिनों राहगीरों डरा रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि यहां दिन में झपटमारी और रात में लूट की घटनाएं हो रही है। एक तरफ शहर में लूट व झपटमारी की ताबड़तोड़ घटनाएं हो रही है, वहीं दूसरी तरफ बॉर्डर पर पुलिस सुस्त है। बॉर्डर पर लापरवाही के कारण पुलिस तक लूटपाट की सूचना पहुंचने से पहले ही बदमाश दिल्ली व नोएडा की सीमा में प्रवेश कर जा रहे है। टीएचए में बेखौफ बदमाश पुलिस चौकी के आसपास भी अपराध करके आसानी से फरार हो जा रहे है। 

गाजियाबाद: क्लिक के नाम पर फिर हुई हजारों करोड़ की ठगी

टीएचए का बॉर्डर क्षेत्र है खतरनाक

यूं तो टीएचए में हर जगह झपटमारी व लूटपाट का डर लोगों को सताता रहता है, लेकिन दिल्ली व नोएडा की सीमा से सटे टीएचए के क्षेत्र को सबसे अधिक खतरनाक माना जाता है। कारण यह है कि इन क्षेत्रों में वारदात करके बदमाश चंद मिनटों में बॉर्डर क्रॉस कर लेते है। ऐसे क्षेत्र में अभय खंड का गौड़ प्लाजा, साई मंदिर रोड, पुश्ता नहर रोड व वैशाली सेक्टर-1 व 2 की पुलिया आता है। यहां पर लूटपाट करके बदमाश यूपी गेट होते हुए या तो दिल्ली की तरफ फरार हो जाते है या फिर इंटरनल रोड से नोएडा भाग निकलते है। इसके अलावा सूर्य नगर के मुख्य सड़क पर सबसे अधिक लूटपाट की घटनाएं होती है। यहां से कुछ ही मिनट में बदमाश दिल्ली के विवेक विहार भाग जाते है। कौशांबी के ईडीएम मॉल व मेट्रो स्टेशन के आसपास अपराध करने वाले बदमाश आसानी से आनंद विहार भाग जाते है। 

विशेष मौके पर ही बॉर्डर पर सख्ती

टीएचए के बॉर्डर पर पुलिस की सख्ती विशेष मौके पर ही देखने को मिलती है। चुनाव व होली के मौके पर जितनी सख्ती टीएचए के बॉर्डर पर पुलिस की रहती है, उतनी ही लापरवाही आम दिनों देखा जा सकता है। टीएचए के ज्ञानी बार्डर, कौशांबी-आनंद विहार बॉर्डर, दिल्ली-यूपी गेट बॉर्डर और भोपुरा बॉर्डर दिल्ली व नोएडा से सटे है। यहां आम दिन में यातायात पुलिस व होम गार्ड ट्रैफिक को कंट्रोल करते तो नजर आ जाएंगे, लेकिन पुलिस संदिग्ध वाहनों की चेकिंग करते नहीं दिखती। 

पुलिस चौकी के सामने हो जाती है लूट

बीते 30 मार्च को श्याम पार्क पुलिस चौकी के सामने ही बाइक सवार दो लुटेरों ने दिनदहाड़े श्याम पार्क एक्सटेंशन के कारोबारी नरेंद्र भसीन की पत्नी दिव्या भसीन का पर्स लूट लिया था। घटना के समय वहां के एक ज्वैलरी शॉप के बाहर ड्यूटी दे रहे सुरक्षा गार्ड ने बदमाशों पर फायर किया तो पुलिस को घटना की जानकारी हुई। पुलिसकर्मियों ने बाइक से बदमाशों का पीछा किया, लेकिन वे भाग निकले। वहीं बीते 7 अप्रैल को यूपी गेट पुलिस चौकी के पास बाइक सवार बदमाशों ने एक कारोबारी से पर्स व मोबाइल लूट लिया था। विरोध करने पर कारोबारी की पिटाई कर बदमाश भाग निकले।

 विद्यार्थियों की कम उपस्थिति पर अध्यापकों का कटेगा वेतन

टीएचए की प्रमुख घटनाएं

 - 2 अप्रैल: शालीमार सिटी में कैग के ऑडिट ऑफिसर सत्यवीर सिंह की  पत्नी विजयलक्ष्मी को फ्लैट में बंधक बनाकर दो बदमाशों ने दिनदहाड़े करीब 4 लाख की ज्वैलरी व 50 हजार रुपए लूट लिया।
- 29 मार्च: इंदिरापुरम के मंगल चौक पर बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े ईको मनी ट्रांसफर कंपनी के कलेक्शन एजेंट नीरज शर्मा से  4.46 लाख रुपए लूटे।
-24 मार्च: वैशाली में रिटायर्ड दरोगा और उनकी पत्नी से 4 बदमाशों ने  ज्वैलरी लूट ली। पुलिसकर्मी बनकर बदमाश पहले डर दिखाकर ज्वैलरी  ठगने के फिराक में थे। बुजुर्ग दम्पति के विरोध करने पर लूट लिया।
- 22 मार्च: इंदिरापुरम थाना क्षेत्र में कार सवार बदमाशों ने कैब चालक ओमपाल मावी को अगवा कर 10 हजार की नकदी व मोबाइल लूट लिया था। हिंडन के पास चालक को धक्का देकर बदमाश फरार हो गए थे।
-14 मार्च: भोपुरा तिराहे के पास से बदमाशों ने कारोबारी को अगवा कर स्विफ्ट कार, चेन, अंगुठी व करीब 65 हजार रुपए लूट लिए। बागपत के  जंगल में कारोबारी के हाथ-पैर बांधकर बदमाश फरार हो गए थे।
-9 मार्च: शालीमार गार्डन चौकी से चंद कदमों की दूरी पर बाइक सवार दो  बदमाशों ने मीडिया कर्मी अंशुल से मोबाइल और 2500 रुपए लूट लिए थे। विरोध करने पर बदमाशों ने मीडियाकर्मी की पिटाई की थी।

गाजियाबाद को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए खर्च किए जाएंगे 66 करोड़ रुपये

वही इस मामले को लेकर एसपी सिटी  सलमान ताज पाटिल का कहना है किबॉर्डर क्षेत्र में पुलिस को सतर्क रहने को कहा गया है, जिससे आपराधिक घटना के बाद बदमाशों को पकड़ा जा सके। प्रमुख सड़कों व चौराहों पर पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें