गाजियाबाद: 5, 10 और 15 रुपए की फीस में कैसे पढ़ाएंगे बच्चे!

Navodayatimesनई दिल्ली/ अनूप पांडेय। शहर में एक तरफ निजी स्कूलों द्वारा बेतहाशा फीस बढ़ोतरी के खिलाफ अभिभावक सड़कों पर उतर रहे हैं, वहीं अभिभावकों की शिकायत के बाद संयुक्त शिक्षा निदेशक मेरठ मंडल ने निजी स्कूलों पर कार्रवाई करने की बजाए, ऐसा फीस स्ट्रक्चर जारी किया है, जो बेहद चौंकाने वाला है। संयुक्त शिक्षा निदेशक ने निर्देश में कहा है कि सभी निजी स्कूल कक्षावार 5, 10 व 15 रुपए से ज्यादा फीस नहीं लेंगे।  

गाजियाबाद: शहर में मोबाइल वाटर एटीएम शुरू , महापौर ने किया उद्धाटन

निजी स्कूलों में फीस बढ़ोतरी को देखकर संयुक्त शिक्षा निदेशक मेरठ मंडल महेंद्र देव ने सभी प्राइवेट स्कूलों को जारी निर्देश में कहा है कि कक्षा छह से लेकर आठवीं तक की फीस सरकारी स्कूलों में 2 रुपए है। अत: प्राइवेट स्कूलों में भी कक्षा छह से आठवीं तक के बच्चों को पांच रुपए महीने की फीस में पढ़ाया जाए। इसी तरह कक्षा नौ और दस के बच्चों की प्राइवेट स्कूलों की फीस 10 रुपए महीने और कक्षा 11वीं और 12वीं की फीस 15 रुपए प्रतिमाह निर्धारित की गई है।

इस पत्र में वार्षिक शुल्क, रि-एडमिशन फीस और स्कूलों में स्टेशनरी की बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश भी दिए गए हैं। यह निर्देश मिलने के बाद जिला विद्यालय निरीक्षक राज सिंह यादव ने सभी स्कूलों को दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके बाद फेडरेशन ऑफ स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन ने इतने कम शुल्क में बच्चों को पढ़ाने की बात को कोरा मजाक बताकर इस निर्देश को मानने से स्पष्ट रूप से इंकार कर दिया है।    

मानने को तैयार नहीं निजी स्कूल 

जिला विद्यालय निरीक्षक राज सिंह यादव ने कहा कि संयुक्त शिक्षा निदेशक के निर्देश लागू कराने के लिए सभी प्राइवेट स्कूलों को पत्र भेज दिया गया है। फेडरेशन ऑफ स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन ने इसे मानने से इंकार कर दिया है।

 कार चालक की बहादुरी से लूटी बाइक छोड़ भागे बदमाश  

अभिभावक करेंगे प्रदर्शन  

ऑल स्कूल पेरेंट्स एसोसिएशन के  सचिव सचिन सोनी ने बताया कि संयुक्त शिक्षा निदेशक के निर्देश को लागू कराने के लिए सोमवार को भारी संख्या में अभिभावक जिला विद्यालय निरीक्षक राज सिंह यादव का घेराव कर हर साल हो रही फीस बढ़ोतरी का विरोध करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें