डिफाल्टरों की प्रॉपर्टी को निगम ने किया सील

Navodayatimesनई दिल्ली/ब्यूरो। प्रॉपर्टी टैक्स की अदायगी नहीं करने वाले डिफॉल्टरों के खिलाफ नगर निगम द्वारा कार्रवाई तेज कर दी गई है। इसके तहत जोन-2, जोन-3 तथा जोन-4 क्षेत्रों में अलग-अलग टीमों ने डिफॉल्टरों की प्रॉपर्टी को सील किया। असिस्टेंट इंजीनियर हेमंत राव की टीम ने यूनिटेक बिजनेस जोन टावर ए-5 निर्वाणा में 10 प्रॉपर्टीज को सील करने की कार्रवाई की। वहीं, जोनल टैक्सेशन ऑफिसर-2 देवेंद्र कुमार की टीम ने उद्योग विहार, सत्यम प्लाजा, अपना बाजार में विभिन्न प्रॉपर्टीज को सील किया। 

MCD की लापरवाही से जाम हो रहा बॉर्डर, दोनों मुख्यमंत्रियों को बात करने की जरूरत

इसके अलावा, डीएलएफ फेज-2, सेक्टर-29 सहित अन्य स्थानों पर भी टीमों की कार्रवाई जारी रही। आज की कार्रवाई का परिणाम यह रहा कि काफी लोगों ने प्रॉपर्टी टैक्स का भुगतान संबंधी चैक मौके पर ही टीम को सौंपा। नगर निगम आयुक्त वी. उमाशंकर के अनुसार अलग-अलग टीमें प्रॉपर्टी टैक्स की रिकवरी एवं डिफॉल्टर प्रॉपर्टीज को सील करने के लिए कार्य कर रही हैं। ये टीमें मौके पर जाकर प्रॉपर्टी टैक्स जमा करने बारे संबंधित को आगाह करती हैं तथा भुगतान नहीं करने की सूरत में कार्रवाई की जा रही है। 

नगर निगम सीमा में स्थित सभी प्रकार के भवनों, प्लॉटों का प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाना जरूरी है। जमा नहीं करवाने की सूरत में 18 प्रतिशत वाॢषक दर से ब्याज एवं पैनल्टी के साथ-साथ प्रॉपर्टी को सील एवं अटैच किया जा सकता है तथा सीवर एवं बिजली के कनेक्शन भी काटे जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि लोग समय पर अपना प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाएं तथा सीलिंग, अटैचमेंट सहित अन्य दंड प्रावधानों से बचें और सरकार द्वारा दी जा रही ब्याज माफी एवं छूट का लाभ प्राप्त करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr