हनुमान जयंती पर सैकड़ों साल बाद बन रहे हैं ये विशेष योग

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल।  आज हनुमान जयंती को पूरा देश मना रहा है। रामभक्त हनुमानजी के भक्तों के लिए हनुमान जयंती का दिन खास महत्व रखता है। धर्मशास्त्र के अनुसार हनुमान जयंती चैत्र मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है। ज्योतिषों और पंडितो की मानें तो इस साल की हनुमान जयंती का विशेष  महत्व है क्योंकि 120 साल बाद इस बार हनुमान जयंती पर बहुत खास संयोग बन रहें है। इसलिए आज के दिन हनुमानजी की पूजा करने से भक्तों पर खास कृपा होगी।

कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाले में मनमोहन पर कसेगा शिकंजा

ज्योतिष के अनुसार आज के हुनमान जयंती को वैसा ही संयोग बन रहा है जैसा कि हनुमान जी के जन्म के समय बन रहा था। शास्त्रों में बताया गया है कि दिन मंगलवार, पूर्णिमा तिथि, चित्रा नक्षत्र अंजनी पुत्र हनुमान के जन्म के समय यही योग बताये गये है।

इसके साथ ही एक और विशेष योग गज केसरी भी बन रहा है  इसके अलावा दिन का योग अमृत रहेगा जो बेहद शुभ दायी माना जाता है। ज्योतिष की मानें तो जिन लोगो पर शनि की साढ़ेसाती या ढैय्या चल रही है उनके लिए यह दिन शुभ रहेगा। आज के दिन हनुमान जी की पूजा करने से यह दोष भी समाप्त हो जायेगा। 

कश्मीर उपचुनाव पर गृह मंत्रालय, ईसी में वाकयुद्ध

आपको बता दें कि हनुमान जी भगवान शंकर के 11वें अवतार है। वे वानरराज केसरी और देवी अंजना के यहां इस धरती पर अवतरित हुए है। हनुमान जी को अवतार भगवान राम की सहायता के लिए हुआ था। उनकी राम भक्ति और राम कार्य को सेवा की पराकाष्ठा माना जाता है ।

हनुमान उपासना मंत्र

अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम् .सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं

रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि..दक्षिणे लक्ष्मणो यस्य वामे च जनकात्मजा.

पुरतो मारुतिर्यस्य तं वन्दे रघुनन्दनम् ..

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr