Tuesday, Jan 23, 2018

प्रेग्नेंसी में खांए ये चीज तो तेज दिमाग वाला होगा बच्चा!

  • Updated on 1/12/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पौष्टिक आहार हर किसी के लिए अनिवार्य है। लेकिन गर्भावस्था में महिलाओं के लिए पूर्ण पोषण बेहद अहम होता है। महिलाओं के लिए गर्भावस्था में पौष्टिक आहार खाना अहम है क्योंकि मां के खाने का सीधा असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है।

तंबाकू उन्मूलन : 2000 से अधिक पंजीकृत लोगों ने छोड़ी तंबाकू की लत

पोषण के लिए इसलिए गर्भवती महिलाओं को अंडा खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीनम, सेलेनियम, जिंक, विटामिन A, D और कुछ मात्रा में B कॉम्प्लेक्स भी पाए जाते हैं। ये शरीर की सभी जरूरतों को पूरा करने का सबसे बेहतर सूपर फूड है। ये बात कई बार रिसर्च के जरिए सामने आ चुकी है कि गर्भावस्था के दौरान अंडा खाने से बच्चे का दिमाग तेज होता है साथ ही उसके सीखने की क्षमता भी बढ़ती है।

वजन कम करना हो तो BJP अध्यक्ष अमित शाह से मिलें

फायदे

  • अंडे में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो गर्भावस्था के दौरान लिया जाना बहुत आवश्यक है। गर्भ में पल रहे बच्चे की हर कोशिका प्रोटीन से बनती है। ऐसे में गर्भवती महिला अगर अंडे खाती है तो भ्रूण का विकास बेहतर तरीके से होता है।
  • अंडे में 12 विटामिनों का पैकेज होता है और साथ ही कई तरह के लवण भी होते हैं। इसमें मौजूद choline और ओमेगा-3 फैटी एसिड बच्चे के संपूर्ण विकास को बढ़ावा देते हैं। इसके सेवन से बच्चे को मानसिक बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है और उसका दिमागी विकास भी होता है।
  • अगर गर्भवती महिला का ब्लड कोलेस्ट्रॉल स्तर सामान्य है तो वह दिन में एक या दो अंडा खा सकती है। अंडे में कुछ मात्रा में सैचुरेटेड फैट भी होता है। अगर महिला का कोलेस्ट्रॉल लेवल अधिक है तो उसे जर्दी वाला (पीला हिस्सा) भाग नहीं खाना चाहिए।
  • गर्भवती महिला को एक दिन में दो सौ से 300 तक एडिशनल कैलोरी लेनी चाहिए। इससे उसे और बच्चे, दोनों को पोषण मिलता है। अंडे में करीब 70 कैलोरी होती है जो मां और बच्चे दोनों को एनर्जी देती है।
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.