जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां बन रहीं खतरा, शराब और धूम्रपान की आदत है बड़ी वजह

जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां बन रहीं खतरा, शराब और धूम्रपान की आदत है बड़ी वजह

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के वसंत कुंज के ज्यादातर लोग जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों का शिकार हैं। एक अध्ययन में सामने आया है कि करीब 70 प्रतिशत तक पुरुष और 14 प्रतिशत तक महिलाएं अल्कोहल का बहुत ज्यादा सेवन कर रहे हैं और साथ ही स्मोकिंग भी बहुत ज्यादा करते हैं। ये अध्ययन ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज ने किया था। जिसमें सामने आया कि इसी वजह से दिल्ली के इस हिस्से के लोग कई तरह की बीमारियों का शिकार हैं।

एयरपोर्ट पर गुटखा और तंबाकू लाए तो पकड़ लेगी मशीन

अध्ययन के मुताबिक, यहां के ज्यादातर लोग 50 से ज्यादा उम्र के हैं और अल्कोहल का सेवन बहुत ज्यादा करते हैं। यही वजह है कि ये लाइफस्टाइल से जुड़ी खतरनाक बीमारियों का शिकार हैं। एम्स ने ये अध्ययन नीदरलैंड की एरासमस यूनिवर्सिटी के सहयोग से किया था। अध्ययन में शामिल किए गए 63 प्रतिशत लोगों को हाइपरटेंशन, 26 प्रतिशत को मोटापे, 18 प्रतिशत को डायबिटीज और 32 प्रतिशत को र्यूमेटॉयड अर्थराइटिस की शिकायत थी। 3,000 प्रतिभागियों में 1,465 पुरुष और 1,526 महिलाएं थीं। 

इस अध्ययन को लेकर एम्स के डॉक्टरों का कहना है कि हमें इसमें 7,500 और लोगों को जोडऩा है। प्रारंभिक परिणामों में सामने आया कि 70 प्रतिशत पुरुष और 14 प्रतिशत महिलाएं जिनकी उम्र 50 से ज्यादा थी, वो अल्कोहल का सेवन बहुत ज्यादा कर रहे थे। हमने 3,000 प्रतिभागियों को शामिल किया, जिनमें लोग डायबिटीज, हाइपरटेंशन, हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल, ओबीसिटी और र्यूमेटॉयड अर्थराइटिस का शिकार थे।

एम्स के न्यूरोलॉजी विभाग के प्रोफेसर डॉ. कामेश्वर प्रसाद का कहना है कि यह एक अनूठा शोध था, जिसकी शुरुआत अक्तूबर 2015 में हुई थी। हमने डोर टू डोर सर्वे किया। इसमें वसंज कुंज की अर्बन पॉपुलेशन को रखा गया था और ऐसे लोगों को जिनकी उम्र 50 से ज्यादा थी। इस शोध का विचार एक प्रीडिक्शन मॉडल विकसित करना था, जिसे टाइमली ट्रीटमेंट के जरिए फॉलो किया जाता। शोध में सामने आया कि पुरुषों में 70 प्रतिशत अल्कोहलिक हैं और 43 प्रतिशत स्मोकिंग के आदी हैं। वहीं महिलाओं में 14 प्रतिशत अल्कोहलिक हैं।

चित्रकूट उपचुनाव: ‘शिव’ का टूटता तिलिस्म, गुजरात में कांग्रेसियों का मनोबल बढ़ाएगी यह जीत

प्रसाद ने बताया कि प्रतिभागियों से हर 6 महीने पर उनकी जीवनशैली से जुड़ी आदतों को लेकर सवाल पूछे जाते थे। फिर उन्हें हेल्थ अपडेट के लिए भी बुलाया जाता था। एक्सपट्र्स ने इन्हें सलाह दी कि ये जल्द से जल्द शराब और सिगरेट की लत को छोड़ें। साथ ही इन्हें नियमित टहलने और व्यायाम की सलाह भी दी गई। विशेषज्ञों ने उन्हें बताया कि सबसे पहले वह अपने खाने में हरी सब्जियों और फलों को ज्यादा से ज्यादा मात्रा में शामिल करें। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें