हिन्दुस्तान और तिब्बत राष्ट्रीय राजमार्ग बंद

Navodayatimesनई दिल्ली/जगमोहन। सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण हिंदोस्तान-तिब्बत राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात के लिए बंद हो गया है। मलिंग में कई दिनों से बंद सड़क मार्ग ने चीन अधिकृत तिब्बत की सीमा पर देश की सेना के लिए आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति प्रभावित कर दी है।

व्यस्तता कम होने के बाद ED के समक्ष जाऊंगा : वीरभद्र

उधर, प्रशासनिक अधिकारियों सहित अनेक निजी व सेना की गाडिय़ों के कई स्थानों पर फंसे होने की सूचना है। रिकांगपियो से काजा जाने वाली एच.आर.टी.सी. की बसें भी कई दिनों से काजा नहीं पहुंची हैं।

उधर, ऊपरी किन्नौर के चांगो, शलखर सुमरा व समदो से लेकर चीन अधिकृत तिब्बत की सीमा तक समूची स्पीति घाटी का सड़क संपर्क शेष भारत से कट गया है। प्रशासनिक स्तर पर जानकारी के अनुसार बर्फबारी के दौरान आमतौर पर साल भर खुले रहने वाले हिंदोस्तान-तिब्बत राष्ट्रीय राजमार्ग के मलिंग नामक स्थान पर दरकती पहाडिय़ों से हुए भू-स्खलन ने मलिंग में करीब 25 मीटर सड़क मार्ग धंस कर गहरी खाई के बराबर हो गया है।

धूमल के खिलाफ 16 के बाद बड़ी कार्रवाई की तैयारी! 

रोड का नामोनिशान नहीं है, जिससे सामरिक महत्व केइस सड़क मार्ग पर गाडिय़ों के पहिए कई दिनों से थमे हुए हैं। सीमा पर स्थित स्पीति के लोगों की मानें तो इन हालत में सीमा पर अगर किसी तरह की आपात स्थिति पैदा हो जाए तो उनका सामना कैसे हो पाएगा, यह सवाल यहां हर किसी के जहन में उठता रहा है क्योंकि सीमा तक मदद रसद आने का दूसरा कोई उपाय भी यहां मौजूद नहीं है, एकमात्र सड़क मार्ग के लिए मङ्क्षलग कई वर्षों से नासूर बना हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें