रोहिंग्या मुद्दे पर ट्वीट कर फंसे जावेद अख्तर, लोगों ने कुछ यूं लगाई क्लास

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। म्यांमार के रोहिंग्या मामला इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है और लोगों इसपर अपने-अपने बयान भी जारी कर रहे हैं। इस बीच गीतकार जावेद अख्तर ने भी प्रतिक्रिया जारी की। जिसके बाद ट्विटर यूजर्स ने उनके ट्वीट पर जमकर टिप्पणी की।

फॉर्च्यून बिजेनस वुमेन लिस्ट में शामिल हुई भारत की ये तीन महिलाएं

जावेद अख्तर ने ट्वीट किया कि अगर वहां हिंदुओं की कब्र मिली है, तो यह जरूर वहां की सेना की वजह से हुआ होगा। नहीं तो, सैकड़ों की संख्या में हिंदू लोग वहां से रोहिंग्याओं के साथ क्यों भाग रहे हैं।

इसपर एक यूजर ने लिखा कि लाइम लाइट में बने रहने के लिए घर में बैठकर आपका इस तरह से नुकसान पहुंचाने वाली टिप्पणियां करना आपको सनकी बताता है। आप यकीन क्यों नहीं कायम करते और तथ्य क्यों नहीं जांचते।

इसपर अख्तर ने जवाब देते हुए दोबारा ट्वीट किया और कहा कि क्या नफरत फैलाने के अलावा आपने जिंदगी में किसी चीज के लिए मदद की है। मैं आपको जानता हूं।

इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए यूजर ने फिर ट्वीट करते हुए लिखा कि घर बैठे कर रहे हो बेफिक्र बयान फरमान कितने झूठे, जनाब थोड़ा शर्म कीजिए वह अपने मारे गए हैं, जिनके जनाजे भी नहीं उठे।

दूसरे यूजर्स ने पाक का जिक्र करते हुए कहा कि पाक के हिंदु बहुत खुश है। पाक एक इस्लामिक देश लेकिन इस्लाम शांति का प्रतीक हैं।

इसपर अख्तर ने लिखा कि 1947-48 के बीच पाक में 10 फीसदी मुसलमान थे, लेकिन ये संख्या घटकर अब 1 फीसदी हो गई है। 

हालांकि इस दौरान अख्तर ने सभी के सवालों का जवाब दिया। बता दें कि म्यांमार के रखाइन में 24 सितंबर को 28 हिंदुओं की कब्र मिली थी, जिसके लिए वहां की सेना ने रोहिंग्या आतंकियों को जिम्मेदार ठहराया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें