कनाडा रक्षा मंत्री के स्वागत पर पंजाब सरकार ने खड़े किए हाथ, कहा...

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। 20 अप्रैल को पंजाब दौरे पर आ रहे कनाडा के रक्षामंत्री हरजीत सिंह को लेकर पंजाब में माहौल गरमा गया है। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने उनके स्वागत के लिए अपने हाथ खड़े कर दिए है। उन्होंने हरजीत को खालिस्तानी समर्थक बताकर उनके स्वागत के लिए साफ साफ इंकार कर दिया है। इतना ही नहीं सीएम के साथ-साथ उनकी पूरी टीम का कोई भी सदस्य उनके स्वागत के लिए नहीं जाएगा। उनकी कैबिनेट ने भी उन्हीं के साथ खड़े होने की ठान ली है। 

कौन करेगा स्वागत

20 अप्रैल को वो चंडीगढ़ आएंगे और उसके बाद अगले दिन वो अमृतसर  स्वर्ण मंदिर जाकर मत्था टेकेंगे। अब जब पंजाब सरकार ने हाथ उठा दिए है तो इसके विरोध में एसजीपीसी नामक एक धार्मिक संस्था उतर पड़ी है। उन्होंने कहा है कि वो कनाडा रक्षा मंत्री का भव्य स्वागत करेंगे उनका मानना है कि ये सिख कौम के लिए बहुत ही गर्व की बात है कि कनाडा के रक्षा मंत्री है। वहीं दूसरी तरफ उनके पैतृक गांव में उनका पिछले 16 सालों से इंतजार हो रहा है। उनके पिता का कहना है कि कैप्टन पंजाब के सीएम है इस लिए मैं उनके बारे में कुछ नहीं कहना चाहूंगा। 

विपक्ष पार्टियों को मिला मौका

पंजाब सीएम के फैसले के बाद से अब विपक्ष भी अपने हाथ सेकने के लिए कूद पड़ा है। अकाली दल का कहना है कि सज्जन सिंह कनाडा के रक्षा मंत्री है ये बहुत ही गर्व की बात है। अगर पंजाब सरकार उनका स्वागत नहीं करती है तो अकाली दल की ओर से उनका भव्य स्वागत किया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी ने भी इस पर सवाल खड़े कर दिए है। उन्होंने आरोप लगाया है कि हाल ही में हुए चुनावों में कनाडा में रह रहे पंजाबियों ने उनका साथ नहीं दिया था।  इसलिए अब सीएम उनको खालिस्तान समर्थक बता रहे है। आपको बताते चलें कि सीएम कैप्टन के कनाडा और अमेरिका के दौरे के दौरान उनका विरोध किया गया था। उनके संबंध वहां से लोगों के साथ अच्छे नहीं है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें