सिखों के लिए 'सम्मान यात्रा' निकालेंगी यह मशहूर अभिनेत्री

सिखों के लिए 'सम्मान यात्रा' निकालेंगी यह मशहूर अभिनेत्री

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।धर्म एवं मानवता की रक्षा के लिए नौंवे पातशाह साहिब श्री गुरू तेग बहादुर साहिब द्वारा दी गई शहादत के बारे लोगों को बताने के लिए कश्मीरी पंडितों के संगठनों द्वारा 'सम्मान यात्राÓ निकाली जाएगी। गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में शहीदी स्थान पर नतमस्तक होने के बाद प्रसिद्ध पंजाबी फिल्मी अदाकारा प्रीति सप्रू एवं 51 कश्मीरी पंडितों ने यह ऐलान किया। इस मौके पर कमेटी अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के. एवं महासचिव मनजिन्दर सिंह सिरसा भी मौजूद रहे। उनके मुताबिक 5 जनवरी 2018 को दिल्ली के गुरुद्वारा शीशगंज साहिब से तख्त श्री आंनदपुर साहिब तक यात्रा निकाली जाएगी। 

प्रीति ने बताया कि कश्मीरी पंडितों के बच्चों को गुरू साहिब की शहादत की जानकारी देने एवं गुरू साहिब का धन्यवाद दिल से महसूस करने के लिए यात्रा निकाली जा रही है। आज देश में हिन्दू धर्म अगर मौजूद है तो उसके पीछे गुरू साहिब की कुर्बानी का बड़ा योगदान है। प्रीति ने कहा कि आज इतिहास दोबारा से दोहराया जा रहा है। गुरू तेग बहादर साहिब के पास जाकर जब पंडितों ने उनसे मदद मांगी थी, लेकिन हम गुरू साहिब की शहादत को सही सम्मान नहीं दे पाये। इसके कारण आज भी हम अपनी जड़ कश्मीर से टूट के बाहर भटक रहे हैं। आज हिन्दू समाज आर्य समाज, जैन, बौद्ध, एवं दलित आधार पर बंट चुका है। इसलिए हम कश्मीरी पंडितों को लेकर गुरू गोबिन्द सिंह साहिब के द्वारा सिंघ सजाने के प्रतीक श्री आनंदपुर साहिब की धरती पर नतमस्तक होकर सरबंसदानी के आगे अरदास करके अपनी आत्मा के बोझ को उतारते हुए कश्मीर पंडितों के कश्मीर में दोबारा बसने के लिए अरदास करेंगे। यात्रा के साथ जहां सिख भाईचारे को हम सम्मानित करेंगे वहीं हिन्दु-सिख एकता को मजबूत करेंगे।

 गुरू साहिब ने मानवता की रक्षा के लिए दी शहादत : जीके 

इस मौके पर मंजीत सिंह  जी.के. ने गुरू तेग बहादर साहिब की शहादत के बाद गुरू साहिब के परिवार एवं सिखों को झेलनी पड़ी शहादतों के सिलसिले को याद किया। साथ ही कहा कि कश्मीरी पंडितों द्वारा गुरू साहिब को नतमस्तक होने से हमें हौसला मिलता है। जी.के. ने कहा कि आपको गुरू साहिब की शहादत पर पछतावा करने की कोई आवश्यकता नहीं है। गुरू साहिब ने मानवता की रक्षा के लिए शहादत दी थी। 1975 में गुरू साहिब की शहीदी की तीसरी शताब्दी के अवसर पर दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा दिये गये भाषण का भी जी.के. ने हवाला दिया। 

कश्मीरी पंडितों को पूरा सहयोग देंगे : सिरसा 

कमेटी महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि गुरू तेग बहादर साहिब के पवित्र शहीदी स्थान पर नतमस्तक होने आये कश्मीरी पंडितों का वो धन्यवाद करते हैं। गुरू साहिब ने धर्म की रक्षा के लिए शहादत देकर देश के धर्मनिरपेक्ष स्वरूप की रक्षा की थी। कश्मीरी पंडितों को यात्रा संबंधी पूर्ण सहयोग देने का सिरसा ने भरोसा दिया। साथ ही बताया कि ऐसी यात्रा 1994 में पहली बार निकाली गई थी और 5 जनवरी को सजाई जा रही यात्रा इस कड़ी में तीसरी यात्रा है। गुरू साहिब के बाद महाराजा रणजीत सिंह ने भी कश्मीरी पंडितों की भरपूर सहायता की थी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें