अनोखा हुनर- दोनों हाथ से एक साथ लिखते हैं इस स्कूल के बच्चे

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। बच्चे का दाएं व बाएं हाथ से लिखना तो आम बात है और आपने देखा भी होगा। लेकिन अगर हम कहें कि एक ऐसा स्कूल भी है, जहां के बच्चे दोनों हाथ से एक साथ लिखते हैं। जी हां दुनिया में कुछ ऐसे महान लोग थे जिनके अंदर यह हुनर था, जैसे भारत के पहले राष्ट्रपति दोनों हाथों से लिखते थे। इसके अलावा साइंटिस्ट आइंसटिन भी बेझिझक दोनों हाथो से लिखते थे।

 इस अनोखी शादी में स्वयं पधारे भगवान, Pics हुई वायरल

आपको बता दें कि कर्नाटक के श्रीराम कन्नड़ कॉन्वेंट स्कूल के सभी बच्चो के अंदर ऐसी प्रतिभा है जिसे देखकर लोग हैरान हो रहे हैं। ये बच्चे दोनो हाथो से एक साथ लिख सकते हैं। इन बच्चो की प्रतिभा देखकर सब आश्चर्यचकित रह जाते है।

एेसा ही एक मामला 2016 में भी आया था। मध्यप्रदेश के सिंगरौली में वीणावादिनी स्कूल में 281 बच्चे दोनो हाथों से एक साथ लिखते थें। स्कूल के संचालक विरंगत प्रताप शर्मा ने बताया था कि सालो पहले उन्होंने आर्मी की नौकरी छोड़कर 1999 में स्कूल का संचालन शुरू किया था।

जहां बच्चो को दोनो हाथ से लिखना सिखाया था। उन्होंने बताया था कि एक बार जब वे जगलपुर से सिंगरौली आ रहे थे तो तब एक ज्ञान की किताब खरीदी थी। इस किताब में लिखा था कि भारत के पहले राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद दोनो हाथों से लिखते थे। इस किताब को पढ़ने के बाद ही प्रेरणा मिली थी।

एक एेसा गांव, जहां कोई नहीं ब्याहना चाहता अपनी बेटी

इसके बाद जब उन्होंने 1999 में स्कूल को संचालन शुरू किया तो बच्चो को दोनो हाथो से लिखने का अभ्यास करवाया था। 

अब यह सामने आया है कि कर्नाटक के श्रीराम कन्नड़ कॉन्वेंट स्कूल बच्चों में यह अनोखा हुनर है कि वे दोनो हाथो से एक साथ लिख सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr