पटियाला हाउस कोर्ट ने दी यूनिटेक के डायरेक्टरों को अंतरिम जमानत, जानें क्या है मामला

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। यूनिटेक के डायरेक्टर संजय चन्द्रा और अजय चन्द्रा 70 लाख की बेल बॉण्ड पर पटियाला हाउस कोर्ट ने एक महीने के लिए अंतरिम जमानत दे दी है।  यूनिटेक डायरेक्टरों को दिल्ली पुलिस ने ईओडब्लू (EOW) का मामला दर्ज कर इन्हें गिरफ्तार किया था।

मीसा भारती आज फिर हुई पेश, ईडी कर रही है पूछताछ

बता दें कि यूनिटेक अपनी एक परियोजना को समय पर पूरा नहीं कर पाई और उन्होंने ग्राहकों को इसकी एवज में ब्याज समेत पैसे भी नहीं लौटाए जाने का मामला है।  इन दोनों डायरेक्टरों पर  ग्राहकों से पैसा लेकर उन्हें धोखा देने और साथ ही साथ इन पैसों लेकर प्रोजेक्ट शुरू ना करने बाद में इन्वेस्टर्स का पैसा ना लौटने का भी आरोप है।

जानें क्या है मामला...

यह मामला गुरुग्राम के सेक्टर 70 से जूड़ा हुआ है। गुरुग्राम की परियोजना के मामले में चंद्रा भाइयों के खिलाफ 91 शिकायतें मिली थीं। गौरतलब है कि दिल्ली की अदालत ने यूनीटेक लिमिटेड के प्रमोटर अजय चंद्रा और संजय चंद्रा को एक रियल स्टेट परियोजना में कथित धोखाधड़ी के मामले में तीन अप्रैल को पुलिस हिरासत में भेज दिया था। 

GST: पहला हफ्ता बीता उधेड़बुन में, नए बयान और अधिसूचना से बनी भ्रम की स्थिति

 दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को अब तक कि अपनी जांच में बताया है कि ये एक बड़ा मामला है और इसमें खरीददारों का कई हजार करोड़ रुपया फंसा हुआ है। लिहाजा इस मामले मे हर पहलू की जांच जरूरी है। "ईओडब्लयू की एक टीम ने गुरुग्राम पहुंची और संजय चंद्रा तथा अजय चंद्रा के आवास पर छापा मारा  करीब 35 करोड़ रुपए जब्त किये थे।

 बता दें कि चंद्रा को 2011 में भी टूजी स्पेक्ट्रम में गिरफ़्तार किया गया था। नवंबर 2011 में ज़मानत पर रिहा होने से पहले वह 8 महीने जेल में रहे थे। चंद्रा पर ग्रेटर नोयडा में भी फ्लैट ख़रीदारों को साथ ग्राहकों के साथ ठगी करने का आरोप लगा था। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr