सावधान! स्मार्टफोन अापके बच्चाें काे बना रहा है मंदबुद्ध‍ि

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। आज के बच्चे स्मार्टफोन को ही अपना खिलौना समझते हैं। पहले जब हम छोटे थे तो हमारे लिए अलग से खिलौने आते थे लेकिन आज के बच्चे पैदा होते ही अपने मम्मी-पापा के स्मार्टफोन काे ही अपना खिलौना  समझते हैं।

 World Egg Day: अंडों के इन बेहतरीन फायदों से होंगे आप अंजान, पढ़ें

अाज के समय में बच्चाें के हाथ में स्मार्टफाेन हाेना अाम बात है। कई माता-पिता एेसे हैं, जाे खुद बच्चों को खिलौनाें की बजाय स्मार्टफोन दे देते हैं। लेकिन क्या अापको पता हैं कि यही स्मार्टफाेन अापके बच्चाें के दिमागी विकास पर गहरा असर डाल रहें हैं और आपको स्मार्टफोन आपके बच्चे को मंदबद्धि बन रहे हैं। यह बात हम नहीं बल्कि हाल ही में हुई एक स्टडी से सामने अाई है।

इस स्टडी में हुए खुलासे के अनुसार स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल करने वाले बच्चों की रचनात्मक प्रतिभा खत्म होने लगती है और उनमें फैसले लेने की क्षमता भी कमजोर पड़ जाती है। काेई फिजिकल एक्ट‍िविटी न करने के वजह सेे आपके बच्चों का शारीरिक विकास भी प्रभावित हो रहा है। सबसे चिंताजनक बात तो यह है कि 3 से 4 साल के बच्चे हर हफ्ते Internet का 6 घंटे इस्तेमाल करते हैं।

जानिए, मिठाई पर लगी चांदी वर्क सेहत के लिए है हानिकारक या फायदेमंद?

इससे बच्चों काे स्वस्थ संबंधी कई शिकायतें हाे रही है, जैसे गर्दन में दर्द महसूस होना, बॉडी पॉश्चर बिगडऩा, चिड़चिड़ापन और गुस्सा। इसलिए अगर अाप अपने बच्चाें काे स्वस्थ और तंदरूस्त देखना चाहते हैं, ताे काेशिश करें कि उन्हें कम से कम स्मार्टफाेन का इस्तेमाल करने दें।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr