दुनिया है खौफ के साये में, शुक्रवार को 13 तारीख पड़े तो है अशुभ

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। शुभ-अशुभ संख्याओं का खेल बड़ा दिलचस्प है। आपकी जन्मतिथि भी आपके जीवन पर बेहद प्रभावी होती है। लेकिन कुछ नंबर हैं जिनके बारे में आपको अंदाजा भी नहीं होगा कि वे आपकी जिंदगी किस कदर बरबाद कर सकते हैं। कहते है कि शुक्रवार को 13 तारीख पड़े तो यह संयोग दुर्भाग्य का जिम्मेदार हो सकता है।

अगर आज सुबह से आपके दिन की शुरुआत खराब हो रही है, तो इसके लिए आप अपनी किस्मत को न कोसें। इसके लिए 13 तारीख और शुक्रवार का संयोग जिम्मेदार हो सकता है। इस दुर्भाग्य को पूरी दुनिया में माना जाता है, लेकिन यह नहीं कहा जा सकता है कि इस अंधविश्वास की शुरुआत कहां से हुई है।

यहां के नाले उगल रहे हैं 43 किलो सोना और 3 टन चांदी, पढ़ें

 अशुभ 13 नंबर 

12 नंबर को पूर्णता का नंबर माना जाता है। 12 महीने, घड़ी में 12 घंटे, 12 राशियां होती हैं। वहीं, इसके बाद आने वाले 13 नंबर को संतुलन की कमी का नंबर माना जाता है। पश्चिमी देशों के लोग शुक्रवार के दिन 13 तारीख पड़ने को बहुत अशुभ मानते  है। वे लोग अशुभ होने के डर से इस दिन घर से बाहर निकलने तक से घबराते हैं। कई होटलों में 13वां फ्लोर नही होता है, 13 नंबर का कमरा नहीं रखा जाता है। एयरलाइन में 13वीं रो में बैठने से यात्री कतराते हैं।

ये है शैतान का दिन
इस 13 नंबर से लोग इस कदर खौफ खाते है कि इसे शैतानों का दिन मानते हैं। इसकी एक वजह यह भी है कि इसी दिन ईसा मसीह को सूली पर लटकाया गया था। ईसा को सूली पर लटकाने वालों की संख्या 13 थी इसलिए 13 अंक को अशुभ और अपूर्ण माना जाता है। ऐसी भी मान्यता है कि सूली पर चढ़ाए जाने से पहले ईसा मसीह ने 13 लोगों के साथ भोजन किया था। इसके अलावा पश्चिमी देशों में  ऐसा भी कहा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति 13 लोगों के साथ खाना खाता है, तो जो व्यक्ति सबसे पहले उठता है, उसकी मृत्यु एक वर्ष के अंदर हो जाती है या वह बुरी तरह से बीमार हो जाता है।

अनोखा हुनर- दोनों हाथ से एक साथ लिखते हैं इस स्कूल के बच्चे

दुर्घटनाएं

 एक डच इंश्योरेंस कंपनी का आंकड़ा बताता है कि 13 तारीख और शुक्रवार को दुर्घटनाएं चोरी एवं आग लगने की घटना अन्य दिनों की अपेक्षा कम हो जाती है। क्योंकि आज के दिन बहुत से लोग अपने घर से बाहर निकलते ही नहीं हैं। इंश्योरेंस कंपनी की एक रिपोर्ट बताती है कि अन्य शुक्रवार की अपेक्षा जिस शुक्रवार को 13 तारीख होती है उस दिन दुर्घटना का आंकड़ा कम हो जाता है क्योंकि इस दिन लोग ज्यादा सर्तक और जागरूक रहते हैं।

फांसी का दिन 
सबसे हैरान करने वाली बात तो यह है कि रोम में सूली चढ़ाने का दिन भी शुक्रवार को ही माना जाता है। बल्कि अमेरिका में 19वीं शताब्दी में लगभग सभी फांसी देने की घटनाएं शुक्रवार को ही होती थीं। इसी वजह से पारंपरिक रूप से शुक्रवार को फांसी देने का दिन मान लिया गया।

पांच साल की उम्र में ही इस बच्ची को आने लगे पीरियड्स!

नॉर्थ कैरोलिना स्ट्रेस मैनेजमेंट सेंटर और फोबिया इंस्टीट्यूट के मुताबिक, हर साल अमेरिका में 80 से 90 करोड़ अमेरिकी डॉलर का नुकसान होता है। लोग 13 तारीख को पड़ने वाले शुक्रवार को घर में ही रहना पसंद करते हैं और वे इस दिन यात्रा भी नहीं करते हैं। हॉलिडे फोल्क्लोर, फोबियास एंड फन के लेखक डोनाल्ड डोसे कहते हैं कि 13 तारीख को पड़ने वाले शुक्रवार को लेकर अमेरिका के 2.1 करोड़ लोग डर के साये में जीते हैं।

डरने की कोई बात नहीं

इस बात की कोई आशंका नहीं है कि 13 तारीख का शुक्रवार आपको कोई नुकसान पहुंचाएगा, हालांकि कई लोग इस पर विश्वास करते हैं कि इस दिन उन्हें नुकसान हो सकता है। कैलेंडर हमारी सुविधा के लिए बनाए गए थे। इस साल यानी साल 2017 में दो शुक्रवार 13 तारीख को पड़े थे। यदि आप जनवरी में बिना किसी नुकसान के बचे रहे, तो इसका कोई कारण नहीं है कि 13 अक्टूबर को आपके साथ कुछ गलत हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr