खोई हुई लोकप्रियता को वापस पाने के लिए राजू श्रीवास्तव भी हुए गाय पर सवार

Navodayatimesनई दिल्ली/राहुल चौहान। वैदिक काल से ही हिंदुस्तान में गाय हमारी संस्कृती से जुडी हुई है और इसे एक पवित्र स्थान मिला हुआ है। तभी तो हमें बचपन में बताया जाता है कि गाय हमारी माता है।  

गाय का आयुर्वेद में भी बड़ा स्थान है । गौर हो तो पहले गाय का उपयोग करंसी के रूप में भी होता था। जिसके पास ज्यादा गाय होती थी वह अमीर और जिसके पास कम गाय होती वह गरीब कहलाता था।

भारत में 95 फीसदी इंजीनियर सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट के लायक नहीं- रिपोर्ट

महाभारत में भी गाय का वर्णन करते हुए कहा गया कि गुरु द्रोण के पास गाय न होने के कारण उनकी पत्नी अपने बच्चों को आटे में पानी मिलाकर नकली दूध बनाकर पिलाती थी।

हालांकि गाय का इतना महत्व होते हुए भी बार-बार इसे राजनीति का हिस्सा बनाया जाता रहा है। हमने अक्सर अपने बड़ों से सुना होगा कि मध्ययुग में राजा यूं ही किसी को भी गाय दान में दे दिया करते थे।

नरेंद्र मोदी का ग्लोबल ड्रीम, जानें क्यों 'दुश्मन' बने ये देश

साथ ही उस समय राजाओं को उकसाने के लिए भी शत्रु गौचर का गायों का समुह अपने कब्जे में ले लिया करते थे। शायद गाय को राजनीति से जोड़ने का सिलसिला वहीं से शुरु हुआ होगा। अंग्रेजों ने भी गाय का राजकिय उपयोग किया और हिन्दु सैनिकों की आस्था तोडने के लिए 1857 में बंदूक की कारतूस में गाय के मांस का उपयोग किया। 

बदलते समय के साथ गाय की राजनीति भी बदली

वक्त के साथ आज की राजनीति में भी गाय के मायने बदल चुके हैं। कभी गाय का इस्तेमाल सत्ता के शीर्ष पर पहुंचने के लिए किया जाता है तो कभी अपनी खोई लोकप्रियता को दोबारा हासिल करने के लिए गाय का इस्तेमाल किया जाता है।

इसी कड़ी में मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ने भी गाय वाला हिट फार्मूला इस्तेमाल करने की कोशिश की है। हालांकि उनका उद्देश्य कुछ भी हो लेकिन मुद्दा सही उठाया है।

जानिए, किसको मिलने चाहिए सोनू के बाल काटने वाले इनाम के 10 लाख रुपए

अब आप सोचेंगे की गाय पर ऐसा क्या खास कहा गया होगा इस वीडियो में तो एक बार आप खुद ही इस वीडियो को देखें और फिर तय करें कि आज के समय में इस देश में गायों की स्थिति कैसी हो गई है।

राजू श्रीवास्तव ने हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कि है जिसमें वह एक बूढ़ी गाय बने हैं और उन्होंने गाय से मिलने वाले अनेक फायदों को गिनाया है। वीडियो के जरिए उन्होंने लोगों को एक बड़ा संदेश देने की कोशिश की है।

इस वीडियो में उन्होंने दिखाया है कि कैसे एक बूढ़ी गाय खुद को कसाई के हाथों न बेचने की गुहार लगाते हुए अपने मालिक से कह रही है कि जिस मां का तुमने दूध पिया है उसे मत बेचो। ये कसाई मुझे काट देंगे। आप खुद ही इस वीडियो में देखे कैसे राजू ने एक बूढ़ी गाय का दर्द बयां किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें