अमरेन्द्र योगी की ‘धार’ से हरियाणा की मंडियों पर चली ‘कैंची’

Navodayatimes

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश की जनता को स्तरीय एवं सस्ती दवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के तहत सभी जिलों में ‘जन औषधि स्टोर’ खोले जाएंगे। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि इन औषधि केन्द्रों पर गरीब मरीजों के लिए अच्छी दवाओं की उपलब्धता कम दामों पर सुनिश्चित हो सकेगी।

अखिलेश के ड्रीम प्रोजेक्ट पर योगी सरकार का हथौड़ा, एक्सप्रेसवे के जांच के लिए आदेश

स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र के रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय में संयुक्त सचिव के साथ उच्च स्तरीय बैठक में यह जानकारी दी। सिंह ने कहा कि जन औषधि केन्द्रों के संचालन से जहां लोगों को काफी कम दामों में जेनेरिक दवाएं मिलेंगी, वहीं व्यापक स्तर पर बेरोजगार फार्मासिस्टों को रोजगार भी मिल सकेगा।

मायावती ने बसपा की सभी समितियां की भंग

प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र की स्थापना हेतु जल्द ही भारत सरकार से अनुबंध किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस परियोजना में लगभग 600 जेनेरिक दवाएं तथा 155 सर्जिकल आइटम्स शामिल हैं। औषधि केंद्रों पर इन औषधियों के मूल्य ब्रांडेड दवाओं से काफी कम होंगे जिसका सीधा लाभ आम नागरिक को मिलेगा।

उन्होंने कहा कि सरकारी चिकित्सालयों के अलावा बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन एवं महत्वपूर्ण स्थलों पर भी औषधि केन्द्र खोलने हेतु लोगों को प्रोत्साहित किया जाएगा। प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र खोलने के लिए 2.5 लाख रुपये की वित्तीय सहायता भी दी जाएगी।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

FacebookGoogle+TwitterPinterestredditDigglinkedinAddthisTumblr

ताज़ा खबरें