Tuesday, Apr 24, 2018

‘बैंकों के पास ब्याज दरें घटाने की गुंजाइश’

  • Updated on 4/21/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल।  भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने मौद्रिक नीति समिति (एम.पी.सी.) की पिछली बैठक में कहा था कि बैंकों के लिए ब्याज दरों में और कटौती की गुंजाइश है।

रविवार पैट्रोल पंप बंद रखने पर पैट्रोलियम मंत्रालय को आपत्ति

उल्लेखनीय है कि पटेल की अध्यक्षता वाली 6 सदस्यीय एम.पी.सी. ने 6 अप्रैल को बैंचमार्क नीतिगत ब्याज दर (रेपो दर) को लेकर यथास्थिति बनाए रखने का फैसला किया था। रिजर्व बैंक ने एम.पी.सी. की बैठक का ब्यौरा वीरवार को जारी किया।

इसके अनुसार पटेल ने कहा, ‘‘बैंकों के लिए ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश अभी है। प्रभावी संचरण के लिए यह महत्वपूर्ण है कि लघु बचतों पर ब्याज दर वित्तीय प्रणाली के अन्य तुलनात्मक परिपत्रों पर ब्याज दर के हिसाब से नहीं हो।’’ वहीं संसद की एक समिति ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित को उसके समक्ष 25 मई को पेश होने के लिए फिर बुलाया है।

GST में माल की आवाजाही पर ई बिल का विरोध

इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उन्हें समिति के समक्ष फिर से बुलाने के लिए भाजपा सांसदों को समझाया था। सूत्रों ने बताया कि पटेल से कहा गया था कि वह समिति के समक्ष फिर पेश हों और सदस्यों को नोटबंदी के बारे में बताएं क्योंकि इस बारे में अभी चर्चा सम्पन्न नहीं हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.