Sunday, Dec 15, 2019
150 kg heroin recovered from afgani smugglers

5 हजार करोड़ की ड्रग्स की फैक्ट्री का भंडाफोड़, 150 किलो हेरोईन बरामद

  • Updated on 7/20/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जाकिर नगर स्थित एक मकान में चल रही हेरोइन बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश कर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने दो अफगानी (Afganistan) नागरिकों सहित पांच तस्करों (Smugglers) को धर दबोचा। ये तस्कर हेरोइन की सप्लाई दिल्ली-एनसीआर और पंजाब सहित श्रीलंका में करते थे।
जबकि हेरोइन ढोने के लिए चार लग्जरी गाडिय़ों का भी इस्तेमाल करते थे। 

दिल्ली के मास्टर प्लान-2021 में शामिल होगा यह फैसला, शादी के समारोहों में सरकारी दखल

 कुल पांच हुए गिरफ्तार 
आरोपियों के कब्जे से करीब 150 किलो हेरोइन बरामद हुई है, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 600 करोड़ रुपए है। पकड़े गए आरोपियों में अख्तर मोहम्मद सिनवारी (31), रहमत गुल (30), वकील अहमद (36), रईस खान (43) और धीरज (21) शामिल हैं। इनमें से अख्तर और रहमत अफगानी हैं। 

दो अफगानी एक्सपर्ट बनाते थे हेरोइन
दोनों केमिकल एक्सपर्ट हैं, जो हेरोइन बनाने के लिए अफगानिस्तान से लाए गए कच्चे माल से हेरोइन बनाने का काम करते हैं। इन्हें हेरोइन निर्माण में महारत हासिल है। इनके पास से हेरोइन एक जगह से दूसरी जगह तस्करी के लिए इस्तेमाल करने के लिए चार लग्जरी कार, दो पिस्टल और 20 कारतूस भी बरामद किए गए हैं।

सोनभद्र: लाख मनाने पर भी नहीं मानी प्रियंका गांधी, कहा पीड़ितों से मिले बिना नहीं लौटूंगी

अब तक की सबसे बड़ी खेप
डीसीपी मनीषी चंद्र ने बताया कि दिल्ली में पकड़ी गई हेरोइन की यह अब तक की सबसे बड़ी खेप है। इससे पहले गत मार्च महीने में स्पेशल सेल ने 83 किलो हेरोइन की खेप पकड़ी थी। इसी क्रम में गत कुछ दिनों से पुलिस को सूचना मिल रही थी कि साउथ-ईस्ट जिले में लगातार लग्जरी कार की संदिग्ध आवाजाही हो रही है। उन कारों में अमूमन देर रात अथवा तड़के भारतीय के अलावा अफगानी और अफ्रीकी मूल के लोग आते-जाते दिख रहे थे। 

दिल्ली के इस जिले में लगाए जा रहे सबसे ज्यादा कांवड़ शिविर, प्रशासन ने की खास तैयारियां

लंका इत्यादि जगहों पर कर रहे थे तस्करी
जानकारी मिलने पर पुलिस ने कारों पर नजर रखनी शुरू की। इसमें पता चला कि इलाके में एक ड्रग्स तस्कर गैंग सक्रिय है जो अफगान से हेरोइन लाकर इसकी तस्करी देश सहित श्रीलंका इत्यादि जगहों पर कर रहा है। खबर पुख्ता कर इंस्पेक्टर सुनील, रविंद्र जोशी और विनोद बाडोला की टीम ने टेक्निकल सर्विलांस से तस्करों के बारे में जानकारी इकट्ठा की। उनकी मूवमेंट का पता चलने पर पुलिस ने 17 जुलाई की रात आश्रम फ्लाइओवर के पास दो संदिग्ध कारों को रुकवाया और तलाशी ली। 

दो लग्जरी कारें और हथियार भी मिले
तलाशी के दौरान उन कारों से 30-30 किलो कुल 60 किलो हेरोइन जब्त की। तस्कर धरीज और रईस खान को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने कार की पीछे की सीट और डिक्की के बीच बनाए गए गुप्त स्थान पर हेरोइन के पैकेट छुपा रखे थे। तस्करों में पूछताछ में पता चला कि जाकिर नगर इलाके में हेरोइन बनाने की फैक्ट्री है। पुलिस टीम ने जाकिर नगर के मकान में छापा मारकर दो अफगानी तस्करों सहित तीन लोगों को पकड़ा। इस फैक्ट्री से 60 किलो जबकि अन्य तस्कर की कार में छुपाकर रखी गई 30 किलो हेरोइन बरामद की गई।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.