Monday, Sep 26, 2022
-->
2-minor-friends-were-locked-in-the-room-and-showered-with-sticks

2 नाबालिग दोस्तों को कमरे में बंद कर बरसाए लाठी-डंडे, हमलावरों ने किया टॉर्चर, वीडियो वायरल

  • Updated on 9/22/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। 2 नाबालिग दोस्तों को धोखे से घर बुलाकर बेरहमी से पीटा गया। 5 युवकों ने उन्हें कमरे में बंद कर ताबड़-तोड़ तरीके से लाठी-डंडे बरसाए। ऐसे में दोनों किशोर जान बचाने की खातिर गिड़गिड़ाते रहे, मगर हमलावरों पर पीड़ितों की चित्कार का कोई असर नहीं पड़ा। 

बाद में बड़ी मुश्किल से वह खुद को बचाने में सफल रहे। शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपियों के विरूद्ध बलवा एवं मारपीट की धाराओं में एफआईआर दर्ज की है। हमलावरों की गिरफ्तारी न होने से खौफजदा पीड़ित परिवार पलायन की तैयारी में हैं। उधर, सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हो गया है। 

कविनगर थानांतर्गत रजापुर गांव में यह प्रकरण प्रकाश में आया है। वाल्मीकि मंदिर रजापुर के पास कार्तिक पुत्र जितेंद्र व अन्नू पुत्र निक्सन सपरिवार रहते हैं। नाबालिग कार्तिक व अन्नू अच्छे दोस्त हैं। दोनों वाल्मीकि समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। किसी युवक ने गत 18 सितम्बर की रात करीब साढ़े 8 बजे फोन कर दोनों को अपने घर बुलाया। 

वहां जाने पर दोनों को कमरे में बंद कर लिया गया। आरोप है कि कुछ युवकों ने गाली-गलौच कर कार्तिक व अन्नू पर बारी-बारी से लाठी-डंडे बरसाने शुरू कर दिए। हाथ व कमर पर बेरहमी से डंडे बरसाए गए। इस दौरान दोनों किशोर दर्द के कारण बिलख-बिलख कर रहम की भीख मांगते रहे, मगर हमलावरों का दिल नहीं पसीजा। 

जैसे-जैसे वहां से जान बचाकर भागने के बाद पीड़ितों ने अपने-अपने परिवार को आप-बीती सुनाई। तदुपरांत पुलिस से शिकायत की गई। पुलिस ने कार्तिक की शिकायत पर आरोपी सेविन उर्फ गौरव, मनीक, अनुज, विशाल व गौरव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। आरोपियों की अब तक गिरफ्तारी नहीं की गई है। 

इससे कार्तिक व अन्नू के परिवार दहशत में हैं। असुरक्षा की भावना से घिरने की वजह से दोनों परिवार रजापुर से पलायन की तैयारी में हैं। यह भी आरोप है कि पुलिस और आरोपी पक्ष इस मामले में समझौते का दबाव डाल रहे हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.