Sunday, Dec 05, 2021
-->
24-hours-police-watch-in-border-area-intensive-checking-of-commercial-vehicles

बॉर्डर एरिया में पुलिस की 24 घंटे निगाह,कर्मिशयल वाहनों की गहन चैकिंग

  • Updated on 10/11/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। त्यौहारों को देखते हुए दिल्ली पुलिस को कुछ खुफिया विभागों से सतर्क रहने की सूचनाएं मिल रही है। जिसको लेकर दिल्ली पुलिस अपने तौर पर कोई ढिलाई छोडऩा नहीं चाहती है। वह अंतर्राज्जीय मीटिंग कर एक दूसरे की एजेंसी से जानकारियों को सांझा कर रही है। जिससे आतंकी आदी अपनी योजनाओं में कामयाब न हो पाएं। बाहरी जिला एक ऐसा इलाका है,जिसे बॉर्डर जुड़े हुए हैं।

वहीं पर किसान भी पिछले साल से आंदोलन कर रहे हैं। इसको देखते हुए बाहरी जिला पुलिस पैरामिलिट्री फॉर्स के साथ इलाकों में गश्त कर रही है। स्पेशल स्टॉफ,ब्रांच और अपने हुयूमैन सॉर्स को सबसे ज्यादा निगरानी रखने के लिये तैनात कर रखा है। खुद जिला पुलिस उपायुक्त परविन्द्र सिंह अपनी टीम के साथ टोल टैैक्स व बॉर्डर पर खासतौर पर निगाह रखे हुए हैं। हर एक कमर्शियल वाहन जोकि जम्मू कश्मीर और पंजाब की तरफ से आ रहे हैं। उनकी खासतौर पर चैकिंग की जा रही है। बॉर्डर के रूट पर लगे हुए सीसीटीवी कैमरों को भी सही करवाया गया है।

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि चैकिंग के दौरान उनको पब्लिक से भी सहायता मिल रही है। जिससे निगरानी करने में काफी मदद मिल रही है। लोगों के साथ मिटिंग करके उनको कई अहम बातों के बारे में जानकारी दी गई है। जिसको लेकर लोग भी उसपर काम कर रहे हैं और हर एक अंजान पर निगाह रखकर उसके बारे में जानकारी दे रहे हैं। उनको अपने किरायेदारों का पुलिस वेरिफिकेशन करवाने और उसकी महत्वपूर्णता के बारे में बताया गया। उन्होंने बताया कि जिस तरह से इस बार पैट्रोल पंप व उनकी गाडिय़ों को निशाना बनाकर बड़ा धमाका करने की जानकारी मिल रही है।

इसको देखते हुए नरेला,अलीपुर,बवाना नांगलोई जैसे एरिया में स्थित पैट्रोल पंपों के अधिकारियों से भी मिलकर उनको निगाह रखने और सीसीटीवी कैमरों को दुरुस्त करके उनकी रिकॉर्डिंग को रखने की बात कही गई है। अगर किसी भी संदिगध को वह देखते हैं तो बिना समय बिताए स्थानीय पुलिस व बीट अफसर को जानकारी देने के लिये कहा गया है। इसके अलावा कुछ संदिगध वाहन के नंबरों को भी वह खंगाल रहे हैं।

जिनके बारे में उनको जानकारी मिली है। रात के वक्त दो पहिया वाहनों पर गश्त कर ने वालों को खासतौर पर निर्देश दिये गए कि वे गश्त करते हुए संदिगधों पर खासतौर पर नजर रखे। बाजारों और अधिक भीड़ वाले इलाकों की जांच जरूर करें। अपने सॉर्स को ओर ज्यादा मजबूत करें,जिससे वारदात को होने से पहले रोका जा सके।

बीती रात ज्वाइंट सीपी अतुल कटियार की देखरेख में बीती रात तीन घंटे तक दो अतिरिक्त डीसीपी,चार एसीपी,20 इंस्पेक्टर,68 एसआई-एएसआई, सौ हेड कांस्टेबल, 180 कांस्टेबल के साथ कुल 51 मोटरसाइकिलें, 28 एमपीवी और 13 ईआरवी तैनात किए गए थे। उन्होंने बताया कि 24 घंटे संदिगध जगहों पर पुलिस बेरिकेडस लगाकर चैकिंग करने के निर्देश दिये गए। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.