Wednesday, Sep 18, 2019
3 nia officials fell accused of demanding bribe of crores in hafiz saeed terror funding case

NIA अधिकारियों पर गिरी गाज, हाफिज सईद टेरर फंडिंग केस में करोड़ों की रिश्वत मांगने का आरोप

  • Updated on 8/20/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेशनल इन्वेसिटीगेशन एजेंसी (एनआईए) को लेकर एक मामला सामने आया है जिसमें एनआईए के तीन अधिकारियों पर टेरर फंडिंग मामले में रिश्वत मांगने के आरोप लगाए गए हैं। अधिकारियों पर पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा के आतंकी और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की टेरर फंडिंग केस में करोड़ों रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप है।

कर्नाटक: येदियुरप्पा सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार, 17 विधायकों को किया शामिल

वहीं आपको बता दें कि रिश्वत मांगने वाले तीन अधिकारियों में एक एनआईए के एसपी हैं। और एक अधिकारी समझौता ब्लास्ट केस की जांच में शामिल है। एनआईए ने भी अधिकारिक तौर पर स्वीकार किया है कि ऐसी एक शिकायत एनआईए को प्राप्त हुई है। एऩआईए के एक अधिकारिक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए कहा कि अधिकारियों को एनआईए से बाहर कर दिया गया है और डीआईजी लेवल के अधिकारी से इस मामले की जांच करवाई जा रही है।

मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री के भांजे को प्रवर्तन निदेशालय ने किया गिरफ्तार, बैंकिंग फ्रॉड का है मामला

एनआईए पाकिस्तान से जुड़े आतंकी संगठन फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) से भारत में रुपए की फंडिंग को लेकर जांच की जा रही है। बता दें कि एफआईएफ का संबंध हाफिज सईद के आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से है। वहीं अक्टूबर 2018 में एनआईए को पूछताछ में पता चला था कि हरियाणा और राजस्थान के कुछ मदरसों के लिए पाकिस्तान से पैसे भेजे गए थे।

पश्चिम बंगाल : करोड़ो की किमत वाले सोने के 60 बिस्कुट जब्त, तीन आरोपी गिरफ्तार

पूछताछ में खुलासा हुआ कि हरियाणा के पलवल के उठावर गांव में एक मस्जिद बनवाने के लिए एफआईएफ ने फंडिंग की थी और यह भी खुलासा हुआ था कि दुबई से आतंकी हाफ़िज़ सईद की संस्था फ़लाह-ए-इंसानियत इसके लिए फंडिंग कर रही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.