Saturday, Jan 29, 2022
-->
381-sub-inspectors-passed-out-after-completing-training

प्रशिक्षण पूरी कर पासआउट हुए 381 सब इंस्पेक्टर

  • Updated on 9/30/2021

प्रशिक्षण पूरी कर पासआउट हुए 381 सब इंस्पेक्टर

- पासिंग आउट पैरेड में दिल्ली पुलिस आयुक्त ने दिलाई सभी को शपथ
- 14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश से भर्ती हुए सब इंस्पेक्टर
नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

दिल्ली के झरोदा कलान स्थित पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज (पीटीसी) में अपनी प्रशिक्षण पूरी करने वाले 381 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर के लिए वीरवार को पासिंग आउट परेड का आयोजन किया गया। इस अवसर पर दिल्ली पुलिस के आयुक्त राकेश अस्थाना ने सभी को शपथ दिलाई। करोना महामारी को लेकर जारी गाइड लाइन का पूरी तरह से पालन करते हुए आयोजित इस कार्यक्रम के पासिंग आउट परेड की कमांड सब इंस्पेक्टर प्रवीण और काजल सिंह के हाथों में थी। इस अवसर पर सब इंस्पेक्टर डेविड और प्रेमनाथ के नेतृत्व में दिल्ली पुलिस के प्रचलित बैंड ने अपने मधुर धुनों से उपस्थित अतिथियों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

किसी ने पीएचडी तो किसी ने कर रखी है एमटेक की पढाई
एसआई पद के लिए योग्यता स्नातक है। पर वीरवार को पासआउट हुए दिल्ली पुलिस के 381 सब इंस्पेक्टरों में कई ने उच्चतम डिग्री भी हासिल की हुई है। इसमें से एक ने इंग्लिश विषय से पीएचडी की पढ़ाई पूरी की है। वहीं 5 ऐसे प्रतिभागी भी हैं जिन्होंने एमटेक की डिग्री हासिल की है। चार ऐसे हैं, जिन्होंने एमबीए की पढ़ाई की है। 124 सब इंस्पेक्टर ने पोस्ट ग्रेजुएट 102 ने बीटेक, 03 बीसीए और 142 सब इंस्पेक्टर वो हैं, जो ग्रेजुएट पास हैं।

14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश से 381 सब इंस्पेक्टर

भर्ती हुए ये सभी सब इंस्पेक्टर अलग-अलग राज्यों का प्रतिनिधत्व कर रहे हैं। जिनमें सबसे ज्यादा हरियाणा के 140, दिल्ली के 94, उत्तर प्रदेश के 62, राजस्थान से 52, बिहार से 13, मध्य प्रदेश के 8, झारखंड के 3, पंजाब और उत्तराखंड के दो-दो के अलावा महाराष्ट्र, नागालैंड, चंडीगढ़, जम्मू कश्मीर और दादर नगर हवेली राज्यों से 1-1 सब इंस्पेक्टर भर्ती हुए हैं।

निशानेबाजी, कमांडो ट्रेनिंग, कम्प्यूटर एग्जाम में रहे ये प्रथम

ट्रेनिंग के दौरान ट्रेनी पुलिस कर्मियों के बीच अलग अलग प्रकार के प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था। इसमें निशानेबाजी, कमांडो ट्रेनिंग और कम्प्यूटर एग्जाम था। इसमें निशानेबाजी में सब इंस्पेक्टर अनुराग ने, कमांडो की ट्रेनिंग में सीमा ने और कंप्यूटर के एग्जाम में रमेश को प्रथम स्थान मिला। इसके अलावा सब इंस्पेक्टर आशु रही ऑल राउंडर बेस्ट कैडेट की ट्रॉफी हासिल की।

फिजिकल और टेक्निकल ट्रेनिंग दी गई इनको

इन भर्ती हुए सभी सब इंस्पेक्टरों को हर तरह की ट्रेनिंग दी गई। साथ ही लो एंड ऑर्डर को मेंटेन रखने के साथ साथ किस तरह से टेकनिकल सर्विलांस से किसी भी मामले को सुलझाया जा सकता है, उसके बारे में भी विस्तृत ट्रेनिंग दी गई। विषम परिस्थिति में भीड़ से निपटने और उस हालत को काबू करने के बारे में जरूरी जानकारी उपलब्ध करवाई गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.