4 police blackmailing up police arrested

पुलिस अधिकारियों को ब्लैकमेल करने वाले 4 पत्रकारों को UP पुलिस ने धरा

  • Updated on 8/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गौतमबुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) जिले की थाना बीटा-दो पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया जिन पर आरोप है कि वे पत्रकार (Fake journalist) होने का दावा कर अवैध वसूली करते थे और अपने हित साधने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों पर दबाव बनाते थे। पुलिस ने बताया कि इनका एक साथी अभी फरार है। उसकी गिरफ्तारी पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है।

आतंकी घुसपैठ की आशंका के बाद नौसेना अलर्ट पर, तमिलनाडु में सुरक्षा बढ़ी

पुलिस अधिकारियों को करता था ब्लैकमेल

गिरफ्तार फर्जी पत्रकारों (Fake journalist) में दो इससे पूर्व भी जेल जा चुके हैं। पुलिस के अनुसार पूछताछ के दौरान पकड़े गए आरोपियों ने कई पुलिसवालों, प्रशासनिक अधिकारियों, प्राधिकरण के अधिकारियों, तथा नेताओं से सांठगांठ कर करोड़ों रूपये की कमाई करने की बात स्वीकार की है। इनकी चल- अचल संपत्ति को जिला प्रशासन कुर्क करने की तैयारी कर रहा है।  

PM मोदी और NSA डोभाल तीन देशों की यात्रा के तीसरे चरण में आज बहरीन पहुंचे

गौतमबुद्ध नगर(Gautam Budh Nagar) के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने बताया कि पत्रकारिता की आड़ में एक संगठित गिरोह बनाकर, अवैध धनोपार्जन करने, तथा प्रशासनिक अधिकारियों पर दबाव बनाकर अपने हित साधने वाले गिरोह के चार लोगों को थाना बीटा दो पुलिस ने शुक्रवार देर रात को गिरफ्तार किया। इनकी गिरफ्तारी गैंगस्टर कानून के तहत हुई है। उन्होंने बताया कि इस गिरोह का सरगना सुशील पंडित है।

मुंडे से लेकर जेटली तक... 5 साल में भाजपा ने गंवाए अपने कई अनमोल रत्न

जिलाधिकारी ने बताया कि इनके साथी उदित गोयल, चंदन राय तथा नीतीश पांडे को भी गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि इनका एक साथी रमन ठाकुर अभी फरार है। उसकी गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। उन्होंने बताया कि यह गिरोह मुख्य रूप से गौतम बुद्ध नगर, गाजियाबाद व लखनऊ में सक्रिय था। उन्होंने बताया कि यह गिरोह दो प्रकार से अपना कार्य संपादित करता था।

बदमाशों ने कलेक्शन एजेंट से लूटे 20 लाख, एक्शन में पुलिस, FIR दर्ज

इस गिरोह के सदस्य सरकारी सेवकों, विशेषकर पुलिस अधिकारियों को अनुचित आॢथक लाभ का प्रलोभन देकर व्यक्ति विशेष के पक्ष में कार्य करने के लिए प्रेरित करते थे। जिलाधिकारी ने बताया कि दो पत्रकारों की गिरफ्तारी नोएडा से, एक की गाजियाबाद से, तथा एक की लखनऊ से हुई है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के कार्यालयों को सील कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.