5-men-gang-raped-pregnant-woman-11-times

गर्भवती महिला से 5 दरिंदों ने कई दिनों तक किया गैंगरेप, भ्रूण गर्भ में ही खत्म

  • Updated on 8/12/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राजस्थान के बांसवाड़ा से एक अत्यंत हैरान करने वाली खबर सामने आई है। मामला है गैंगरेप का जहां एक गर्भवती महिला से पांच दरिंदों ने 11 बार गैंगरेप किया है। घटना के बाद इलाके में रोष व्याप्त हो गया है।

जिंदगीभर की कमाई लुटाने के बाद प्यार में धोखा मिला तो FB लाइव करके काटा गला

गर्भ में ही हुआ खत्म भ्रूण
गर्भवती महिला के साथ 11 बार गैंगरेप होने के बाद महिला का भ्रूण गर्भ में ही खत्म हो गया है। वहीं गैंगरेप की इस शर्मनाक घटना का खुलासा 26 दिनों के बाद हुआ और जब पुलिस को इलकी खबर मिली तो वे भी आरोपीयों की दरिंदगी देखकर हैरान रह गए।

Related image

बहू ने पूर्व विधायक पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

पुलिस ने इस मामले में पांच हजार के इनामी आरोपी सुनील चरपोटा और उसके तीन अन्य दोस्तों विकास, गब्बू और कलजी को गिरफ्तार कर लिया है। सभी आरोपियों ने महिला से बलात्कार और लूट की तीन वारदात को अंजाम देना कुबूल लिया है।

UP में लाचार कानून : पुलिस से नहीं मिली मदद तो महिला ने मौत को लगाया गले

क्या है मामला
13 जुलाई को रात में महिला अपने प्रेमी के साथ गांव की ओर आ रही थी तभी सुनील, विकास और जितेंद्र शराब के नशे में हथियारों लेकर उनके सामने आये और युवक से झगड़ा शुरु कर दिया। पहले आरोपीयों ने युवक पर तलवार से हमला करके उसे बेहोश कीया और उसके बाद महिला को बस स्टैंड से दूर ले जाकर एकांत जगह पर ले जाकर उसके साथ सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दिया। इतना ही नहीं आरोपियों ने बलात्कार के बाद अपने दो अन्य दोस्तों नरेश और विजय को भी वहां बुला लिया और उसके बाद सुबह के चार बजे तक सभी ने पीड़ित महिला से बारी-बारी रेप कीया।

रेप पीड़ितों को दो उंगलियों वाले परीक्षण’ पर ऐतराज, सुप्रीम कोर्ट से लगाई गुहार

प्रेमी युवक ने की आत्महत्या
घटना के बाद प्रेमिका को नहीं बचा पाने और समाज में इज्जत खराब हो जाने के चलते प्रेमी युवक ने आत्महत्या कर अपनी जान दे दी। जिसके बाद उसका शव पेड़ से लटका मिला था। और जब पुलिस इस मामले में जांच करने पहुंची तो उसके मोबाइल के जरिए महिला तक पहुंच सकी जिसके साथ आरोपी कई दिनों से लगातार गैंगरेप कर रहे थे। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि पीड़ित युवती की स्थिति में पहले से काफी सुधार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.