Sunday, Sep 24, 2023
-->
65-year-old-woman-gave-birth-to-8-babies-in-14-months-new-scam-in-bihar-prsgnt

बिहार में हो रहा कमाल! महिला ने 14 महीनें में दिया 8 बच्चों को जन्म, जाने क्या है मामला...

  • Updated on 8/22/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार से घोटालों की खबर आना नया नहीं है। राज्य में सरकारी घोटालों का बड़ा इतिहास मौजूद है। कोरोना काल में जहां बिहार के हाल बेहाल हैं तो वहीं यहां एक सरकारी योजना में बड़े ही गजब तरीके से घोटाला किया गया है। हैरानी की बात यहां ये हैं कि घोटाला करने वालों ने इसमें प्रकृति के नियम को ही पलट दिया। 

हम बात कर रहे हैं बिहार में लागू नेशनल हेल्थ मिशन योजना की। इस योजना में एक बड़े घोटाले का खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि इस योजना के तहत एक 65 साल महिला की महिला ने पिछले 14 महीनों में 8 बच्चियों को जन्म दिया है। जिसके लिए उसे सरकार की तरफ से आर्थिक रूप से मदद मिली थी। 

श्याम रजक के जाने पर जीतनराम मांझी की घर वापसी से क्या नीतीश कर पाएंगे डैमेज कंट्रोल, एक नजर...

क्या है मामला
दरअसल, ये सारा खेल इस योजना के तहत मिलने वाले पैसों के लिए खेला गया। घोटाले में शामिल लोगों ने कागजों में फर्जीं माताओं और बच्चों का जिक्र करके प्रोत्साहन राशि हड़प ली। इन घोटाले करने वालों में बिचौलियों का नाम प्रमुखता से लिया जा रहा है। 

ये पूरा मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी प्रखंड का बताया जा है। राज्य में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से मिलने वाली प्रोत्साहन राशि को हड़पने के इस तरह की चालबाजी की गई है। बता दें, कि इस योजना के तहत बच्चियों को जन्म देने वाली माओं को प्रोत्साहन राशि मिलती है।

प्रकृति से अलग मामले
कमाल की बात ये है कि इसमें वो महिलाएं भी शामिल हैं जो मां नहीं बन सकती हैं। उन्हें भी इस योजना के तहत बच्चियों की मां के बता कर पैसा हड़पा गया है। इन्ही में 65 साल एक महिला भी शामिल है जिसने सिर्फ 14 महीने में 8 बच्चियों को जन्म दिया है। ये महिला को लगातार प्रोत्साहन राशि भी,  मिशन अधिकारी और बैंक के सीएसपी को प्रोत्साहन राशि भी भेजते रहे।

हुई एफआईआर दर्ज
लेकिन इस मामले के खुलने के बाद महिला के पेपर को फर्जी करार दिया गया है और इस मामले को लेकर मसुहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी ने पुलिस में एफआईआर(FIR) दर्ज कराई है। मामले के खुलने के बाद डीएम के आदेश पर इस बारे में हाई लेवल की जांच शुरू हो गई है।

सरकार ने प्राइवेट हाथों में दिए ये 3 एयरपोर्ट, अब यात्रियों के लिए बदल जाएगा ये सब कुछ....

महिलाओं के उड़े होश
इसी तरह एक अन्य महिला ने भी कागजातों में 9 माह में 5 बच्चियों को जन्म दिया है। जबकि सोमा नाम की एक महिला ने 5 महीने में 4 बच्चियों को जन्म दिया है। वहीँ जब इस बारे में महिलाओं से बात की गई तो उनके होश उड़ गए उन्होंने कहा कि हमें तो बच्चा हुए सालों हो गए, ये सब गलत है। 

यहां पढ़ें अन्य महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.