Saturday, May 08, 2021
-->
80-people-suicide-during-lockdown-by-corona-virus-in-india-djsgnt

कोरोना से डरकर मरने वालों की संख्या पहुंची 328, 80 लोगों ने किया आत्महत्या

  • Updated on 5/4/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। आए दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इसी बीच एक और लगातार बढ़ते आंकड़े ने देश को चिंतित कर दिया है। दरअसल लॉकडाउन के बाद एक रिपोर्ट सामने आयी है। जिसमें यह दावा किया गया है कि देशव्यापी बंद के दौरान मौत के 300 से ज्यादा ऐसे मामले सामने आए हैं जो कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़े नहीं हैं बल्कि इससे जुड़ी समस्याओं से घबरा कर लोगों ने या तो आत्महत्याएं की हैं या उनकी मौत हो गई है।

कोरोना को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, बीपी की मरीजों पर वायरस का असर होगा कम

338 मौतें हुई अब तक
शोधकर्ताओं ने एक अध्ययन में यह खुलासा किया है। शोधकर्ताओं का एक समूह नए आंकडों को जोड़ कर इस निष्कर्ष पर पहुंचा है। इस समूह में पब्लिक इंटरेस्ट टेक्नोलॉजिस्ट तेजेश जीएन, सामाजिक कार्यकर्ता कनिका शर्मा और जिंदल ग्लोबल स्कूल ऑफ लॉ में सहायक प्रोफेसर अमन शामिल हैं। इस समूह का दावा है कि 19 मार्च से ले कर दो मई के बीच 338 मौतें हुईं है और ये लॉकडाउन से जुड़ी हुई हैं।

सरकारी चैनल डीडी पर रामायण, महाभारत के बाद अब दिखेगी 'श्रीकृष्णा' लीला

80 लोगों ने की खुदखुशी
आंकड़े बताते हैं कि 80 लोगों ने अकेलेपन से घबरा कर और संक्रमित पाए जाने के भय से खुदकुशी कर ली। इसके बाद मरने वालों का सबसे बड़ा आंकडा है प्रवासी मजदूरों का। बंद के दौरान जब ये अपने घरों को लौट रहे थे तो विभिन्न सड़क दुर्घटनाओं में 51 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई। विड्रॉल सिम्टम्स (शराब नहीं मिलने से) से 45 लोगों की मौत हो गई और भूख तथा आर्थिक तंगी से 36 लोगों की जान गई।

चमगादड़ की बॉडी से एंटीबॉडी मिलने का वैज्ञानिकों ने किया दावा, जल्द बन सकेगा टीका!

डरकर कर रहे हैं आत्महत्या
शोधकर्ताओं ने एक बयान में कहा, ‘संक्रमण से डर से, अकेलेपन से घबरा कर,आने जाने की मनाही से बड़ी संख्या में लोगों ने आत्महत्याएं की हैं।’ बयान में कहा गया, ‘उदाहरण के तौर पर विड्रॉल सिम्टम्स से ठीक तरह से निपट नहीं पाने से सात लोगों ने आफ्टर शेव लोशन अथवा सेनेटाइजर पी लिया जिससे उनकी मौत हो गई। पृथक केन्द्रों में रह रहे प्रवासी मजदूरों ने संक्रमण के भय से, परिवार से दूर रहने की उदासी जैसी हालात में आत्महत्या कर ली अथवा उनकी मौत हो गई।’

सितंबर तक भारत बना लेगा Coronavirus की Vaccine, कीमत होगी मात्र 1000 रुपए

नहीं थम रहा कोरोना का कहर
गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की रफ्तार बहुत ही तेज हो गई है और यह रुकने का नाम नहीं ले रहा। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस से अब तक 42,505 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं जिसमें से 29,335 सक्रिय मामले हैं। अब तक 1391 मौतें हो चुकी है। वहीं इस खतरनाक वायरस से ठीक होने वाले लोगों का आंकड़ा 11,775 रहा है।

कोरोना से जुड़ी अन्य बड़ी खबरें

comments

.
.
.
.
.