Saturday, Apr 20, 2019

गुरुग्राम भीड़ हमला मामले में आया नया मोड़, पीड़ित ने आत्महत्या की चेतावनी के बाद उठाया ये कदम

  • Updated on 4/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भोंडसी (Bhondsi) के भूप सिंह नगर (Bhoop Singh Nagar) में होली वाले दिन क्रिकेट खेलने को लेकर हुए विवाद में एक बार फिर नया मोड़ आया है। जहां कुछ दिनों पहले पीड़ित परिवार आत्महत्या (Suicide) करने की बात कही थी, वहीं अब परिवार ने अपनी शिकायत वापस ले ली है।

जानकारी के मुताबिक, पीड़ित पक्ष ने कोर्ट में हलफनामा देकर  बताया है कि दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है और आरोपियों के खिलाफ केस को बर्खास्त कर उन्हें छोड़ दिया जाए।

सुप्रीम कोर्ट परिसर में शख्स ने काटी हाथ की नस, मचा हड़कंप

दरअसल, होली के दिन मोहम्मद साजिद (Mohd. Sajid) के घर भीड़ ने हमला किया था। अब इस माजरे पर उनके भांजे दिलशाद (Dilshad) ने कोर्ट में इस हफ्ते की शुरूआत में हलफनामा पेश किया, जिसमें उसने बताया कि जिस शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है वो बेगुनाह है।

इस हलफनामे में दिलशाद ने बताया कि गिरफ्तार किया गया शख्स राजसिंह उर्फ अमित (Amit) ने हमारे साथ कोई हिंसा नहीं की है बल्कि वह तो हमलावरों से हमारे परिवार को बचा रहा था और उसी ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। हमें इस बात से कोई आपत्ति नहीं है कि उसके खिलाफ जारी केस को बर्खास्त कर उसे जमानत दे दी जाए।

इस बारे में पीड़ित मोहम्मद साजिद का कहना है कि हम समझौते के लिए मान गए है, क्योंकि अगर हमें इस समाज में रहना है तो हमे समाज की सुननी भी पड़ेगी। हम चाहते हैं कि दोनों परिवार आपस में मिलजुल कर रहें।

वहीं एसएचओ सुरेंद्र कुमार ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है। सूत्रों के अनुसार, दोनों पक्ष इस मसले पर अपनी एफआईआर भी वापस ले सकते हैं। 

बच्चियों से अश्लील बातें करने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे, आरोपी के परिजनों ने दिया ये तर्क

बता दें कि ये मामला गुरुग्राम (Gurugram) के भोंड़सी के भूप सिंह नगर का है जहां पर होली की शाम करीब 5 बजे मुस्लिम परिवार के कुछ बच्चे क्रिकेट खेल रहे थे। इस तरह उनको खेलते देखकर कुछ लड़के बाइक पर आए और उन्होंने उन मस्लिम बच्चों से कहा कि तुम यहां क्या कर रहे हो? जाओ पाकिस्तान।

इतना सुनते ही बच्चे क्रिकेट छोड़कर अपने घर की और चल दिए, लेकिन जैसे ही शाहिद क्रिकेट छोड़कर घर पहुंचा तो उसके पीछे वो दबंग भी घर पर पहुंच गए और अपने साथ लाए हथियार से उन्होंने उस पर हमला बोल दिया।

हरियाणा: JJP- AAP में गठबंधन की राह साफ, आज होगी औपचारिक घोषणा !

इस पूरे माजरे का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था, जिसमें देखा जा सकता है कि महिलाएं उनसे दया की भीख मांग रही हैं।  दबंगो ने शाहिद को बेरहमी से तब तक मारा जब तक वो बेहोश नहीं हो गया। उसके बाद भी जब वे घर से बाहर गए तो उन सभी ने उनकी गाड़ियां भी तोड़ दी। बता दें कि हरियाणा पुलिस ने फिलाहल पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.