Friday, Sep 30, 2022
-->
after-kidnapping-two-girls-the-drug-addict-committed-one-after-the-rape-murder-arrest

दो बच्चियों को अगवा कर नशेड़ी युवक ने की दुष्कर्म बाद एक की हत्या, गिरफ्तार

  • Updated on 8/19/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मोदीनगर थानाक्षेत्र के गांव रोरी में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली हैवानियत भरी घटना सामने आई है। जहां गांव का ही रहने वाला नशेड़ी युवक घर के बाहर खेल रहीं दो बच्चियों को साइकिल पर अगवा कर ईंख के खेत में ले गया और एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद उसने हत्या कर दी। गांव से एक साथ दो बच्चियों के गायब होने की सूचना पर पुलिस विभाग में हडक़ंप मच गया। सूचना पाकर एसएसपी मुनिराज जी व एसपी ग्रामीण ईरज राजा मौके पर पहुंचे और चार थानों की पुलिस को बुलाकर रात भर ग्रामीणों के साथ ईंख के खेत में कॉबिंग की गई। देर रात आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उसकी निशानदेही पर शुक्रवार तडक़े ईंख के खेत से बच्ची के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। जबकि दूसरी बच्ची को पुलिस ने घटना के कुछ घंटे बाद ही सकुशल बरामद कर लिया था। 


गांव रोरी निवासी पीडि़त व्यक्ति का कहना है कि वीरवार शाम को उनकी 8 वर्षीय बेटी और 6 वर्षीय भांजी घर के बाहर खेल रही थीं। शाम करीब साढ़े 6 बजे तक बच्चियों के घर न लौटने पर उन्होंने बच्चियों की तलाश शुरू की। तलाश के दौरान ग्रामीणों ने बताया कि उनकी बच्चियों को गांव का ही रहने वाला कपिल साइकिल पर बैठाकर ले जाते देखा गया था। जिसके बाद रात करीब साढ़े 8 बजे परिजनों और ग्रामीणों द्वारा मोदीनगर पुलिस को मामले की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही एसएसपी, एसपी ग्रामीण और सीओ मोदीनगर भी गांव रोरी पहुंच गए। वहां ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने कपिल को बच्चियों को ले जाते देखा था। ग्रामीणों ने बच्चियों के साथ अनहोनी होने का अंदेशा जताते हुए यह भी बताया कि कपिल नशे का आदी है। जिसके बाद एसएसपी ने मोदीनगर के अलावा मुरादनगर, भोजपुर और निवाड़ी थाने की पुलिस को बुलाकर ग्रामीणों के साथ मिलकर ईंख के खेत में कॉबिंग शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस ने गांव से करीब 1 किमी. दूर 6 साल की बच्ची को सकुशल बरामद कर लिया और आरोपी की साइकिल भी बरामद कर ली। जबकि दूसरी बच्ची और आरोपी की तलाश में पुलिस और ग्रामीणों का सर्च ऑपरेशन रात भर जारी रहा।


जंगल में बने खंडहर मकान में छिपा हुआ था आरोपी 
एसपी ग्रामीण ईरज राजा ने बताया कि छोटी बच्ची को सकुशल बरामद करने के बाद पुलिस बड़ी बच्ची और आरोपी की तलाश में जुटी थी। इसी बीच देर रात करीब 1 बजे ग्रामीणों ने आरोपी कपिल को ढूंढ़ निकाला। वह गांव के बाहर जंगल में बने एक खंडहर मकान में छिपा हुआ था। ग्रामीणों में मची भगदड़ को देखते हुए पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और इससे पहले कि गुस्साए ग्रामीण कपिल पर हमला करते उसे कब्जे में ले लिया गया। एसपी ग्रामीण ने बताया कि जिस वक्त पुलिस ने कपिल को गिरफ्तार किया उस वक्त वह नशे में धुत था। पूछताछ के दौरान उसने रात भर पुलिस को गुमराह किया। तडक़े करीब 5 बजे पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर बड़ी बच्ची का शव शाहजहांपुर गांव स्थित ईंख के खेत से बरामद कर लिया। 


खून से सने मिले बच्ची के कपड़े, आरोपी ने कबूला जुर्म   
पुलिस की मानें तो बच्ची का शव लहूलुहान स्थित में बरामद हुआ है। उसके कपड़े खून से सने थे। जिससे अंदेशा है कि आरोपी ने दुष्कर्म के बाद बच्ची की हत्या की। वहीं, आरोपी कपिल ने पूछताछ में अपने जुर्म का इकबाल करते हुए बताया कि उसने गलत काम के लिए ही दोनों बच्चियों का अपहरण किया था। घर के बाहर खेल रहीं बच्चियों को वह घुमाने और चीज दिलाने के बहाने खेत में ले गया था। वहां 6 साल की बच्ची आरोपी के हाथ पर काटकर चगुंल से छूटने में कामयाब हो गई थी। जबकि बड़ी बच्ची को वह ईंख के खेत में अंदर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म कर हत्या कर दी। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि बच्ची के चीखने पर उसने मुंह दबाकर उसकी हत्या की थी। वहीं, जांच बाद पुलिस का कहना है कि बच्ची के गले पर भी निशान मिले हैं। जिससे अंदेशा है कि उसकी गला और मुंह दबाकर हत्या की गई है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद सही स्थिति का पता चल पाएगा। 


ससुर की मौत पर पत्नी को मायके में छोडक़र आया था आरोपी
पुलिस की मानें तो आरोपी कपिल गांव में पत्नी और दादी के साथ रहता है। नशे का आदी कपिल मजदूरी करता है। गांव में उसके मानसिक रोगी होने की भी चर्चा है। पुलिस का कहना है कि कपिल की मेरठ के जानी थानाक्षेत्र स्थित गांव में ससुराल है। वीरवार को कपिल के ससुर की मौत हो गई थी। जिसके चलते वह अपनी पत्नी को मायके में छोडक़र आया था। वारदात से पूर्व नशे में धुत कपिल ने पहले अपने घर में तोडफ़ोड़ की और फिर साइकिल लेकर घूमने निकल गया। गांव के बाहरी हिस्से में पीडि़त के घर के बाहर उसने कुछ बच्चों को खेलते देखा। वहां से वह दोनों बहनों को बहला.फुसलाकर ले गया और हैवानियत भरी घटना कर दी। 


आरोपी के खिलाफ करेंगे कड़ी कार्रवाई, जल्द दिलाएंगे सजा 
एसएसपी मुनिराज जी का कहना है कि शुरुआत में आरोपी के खिलाफ बच्चियों को अगवा करने का केस दर्ज किया गया था। लेकिन एक बच्ची का शव मिलने और परिस्थिति जन्य साक्ष्यों के आधार पर केस में पॉक्सो एक्ट, हत्या और दुष्कर्म की धाराओं का इजाफा किया गया है। आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया। वहां से उसे जेल भेज दिया गया है। पुलिस आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर उसे जल्द से जल्द सजा दिलाने का प्रयास करेगी। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.