Thursday, Aug 11, 2022
-->
airforce-personnel-was-giving-sensitive-information-to-isi

एयरफोर्स कर्मी आईएसआई को दे रहा था संवेदनशील सूचनाएं

  • Updated on 5/12/2022

आईबी के इनपुट के बाद दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार
- धौला कुआं एयरबेस में तैनात कर्मी फोनोसेक्स के बाद फंसा था हनीट्रैप में
नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (आईएसआई) के हनीट्रैप में फंसने के बाद एयरफोर्स और देश की संवेदनशील सूचनाएं लीक करने वाले एक एयर फोर्स के सारजेंट को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच सेल की स्पेशल डिवीजन ने गिरफ्तार किया है। कानपुर निवासी देवेंद्र कुमार शर्मा नामक यह सारजेंट एयरफोर्स रिकॉर्ड ऑफिस सुब्रतो पार्क में एडीएम असिस्टेंट (जीडी) पद पर तैनात है, जिसे इंटेलिजेंस ब्यूरो के इनपुट पर 6 मई को क्राइम ब्रांच की टीम ने एयरबेस से ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से संवेदनशील जानकारियों वाले दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स मिले हैं, जिसका उपयोग कर वह सूचनाएं भेजा करता था।
देवेंद्र सूचनाएं हनीट्रैप में फंसाने वाली महिला को उपलब्ध करा रहा था और वह महिला उन सूचनाओं को आईएसआई को उपलब्ध कराती थी। इन सूचनाओं के लिए महिला आरोपी के पत्नी के बैंक खाते में रुपये भी डाला करती थी। जांच एजेंसियों को आरोपी की पत्नी के खाते में आउटसोर्स रुपए ट्रांसफर की जानकारी मिली है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिला ने एयरफोर्स कर्मी देवेंद्र को फोनोसेक्स की आड़ में फंसाया था। जिसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करते हुए संवेदनशील सूचनाएं मांगने लगी। पता चला है कि महिला देवेंद्र से भारतीय मोबाइल नम्बर से ही संपर्क किया करती थी। ऐसे में माना जा रहा है कि महिला भारत में ही कहीं रह रही है। तत्काल दिल्ली पुलिस ने आरोपी देवेंद्र को कोर्ट से रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ कर रही है। साथ अन्य माध्यमों से भी उस महिला की पहचान और तलाश में जुटी है। पुलिस देवेंद्र से यह भी जानने में जुटी है कि आखिर वह महिला को देश और एयरफोर्स से जुड़ी किस-किस तरह की सूचनाएं लीक कर चुका है।

फेसबुक पर दोस्ती से शुरू हुआ था खेल
मूल रूप से कानपुर का रहने वाले देवेंद्र की महिला से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल नंबर का आदान प्रदान हुआ था। इस दौरान पहले महिला ने उसे फोनो सेक्स के लिए उकसाया, फिर ट्रैप में फंसा कर उसे ब्लैकमेल करने लगी। इसके बाद उससे देश की सुरक्षा और एयरफोर्स की संवेदनशील जानकारी हासिल करने लगी, जो उसे रिकॉर्ड रूम से आसानी से प्राप्त हो जाता था। इस दौरान देवेंद्र को सूचनाओं के लिए मोटी रकम भी दी गई। जांच एजेंसियों को आरोपी की पत्नी के खाते में करीब दो लाख रुपए की ट्रांजेक्शन का भी पता चला है। फिलहाल क्राइम ब्रांच इस पूरे मामले की जांच कर रही है।

आरोपी एयरफोर्स से बर्खास्त
पुलिस सूत्रों के मुताबिक आईबी को इनपुट मिले थे कि एयरफोर्स कर्मी देवेंद्र कुमार जासूसी में लिप्त है। जांच के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी के खिलाफ कोर्ट मार्शल भी हुआ और आरोप सही पाए जाने पर उसे बर्खास्त भी कर दिया गया। आईबी ने ही आगे की जांच के लिए आरोपी को क्राइम के हवाले किया है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.