Sunday, Jan 19, 2020
auto driver arrested for sexually assault mukherjee nagar

दिल्ली: मुखर्जी नगर में कथित रूप से यौन उत्पीड़न करने की कोशिश के आरोप में ऑटो Driver गिरफ्तार

  • Updated on 12/6/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तेलंगाना (Telangana) हो चाहे उन्नाव, महिलाएं सड़कों पर उतरकर अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर सरकारों से जवाब मांग रही हैं। लोगों में सरकार और इस तरह की हरकत करने वालों के खिलाफ काफी गुस्सा है। लोगों का मानना है कि सख्त कानून के साथ जल्द से जल्द आरोपियों को फांसी की सजा होगी,तभी मामलों में कमी आ सकती है। जहां पूरे भारतवर्ष में प्रदर्शन हो रहे हैं। उनके बीच आज भी आरोपी महिलाओं को अपना शिकार बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं।

ऑटो में पीड़िता को अकेली देख चालक ने वारदात को दिया था अंजाम
मुखर्जी नगर (Mukherjee Nagar) इलाके में ऑटो चालक ने नर्स को सूनसान जगह पर ले जाकर डरा धमकाकर बलात्कार करने की कोशिश की। जब वह इसमें कामयाब नहीं हो पाया। चालक पीड़िता का मोबाइल फोन लेकर फरार हो गया। जिससे वह पुलिस को सूचित न कर सके। मुखर्जी नगर पुलिस (Police) ने मामला दर्ज कर ऑटो चालक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान भानू के रूप में हुई है। पुलिस ने ऑटो और लुटा हुआ मोबाइल फोन भी जब्त कर लिया है।

UP: उन्नाव रेप पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल लाया गया

जानकारी के मुताबिक बीते सोमवार रात करीब दस बजे पीसीआर को बुराड़ी स्थित  बाबा निरंकारी मैदान के पास महिला के साथ ऑटो चालक ने रेप की कोशिश की है। पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर खड़ी पीड़िता से पुलिस को पता चला कि वह गोकलपुरी की रहने वाली है और राजेन्द्र पैलेस स्थित एक अस्पताल में नर्स की नौकरी करती है। 

डेढ़ सौ से ज्यादा सीसीटीवी खंगाले
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मामला सामने आने के बाद जिला पुलिस उपायुक्त मामले को देख रही थी। मुखर्जी नगर की चार टीमों को आरोपियों को पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया। पीड़िता ने अस्पताल से लेकर वारदात की जगह तक जिस तरह से रुट बताया। उन सभी रूट पर लगे करीब डेढ़ सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला गया। कुछ सीसीटीवी कैमरे इस बीच खराब भी मिले। बाकी सीसीटीवी कैमरों में ऑटो जाता हुआ भी दिखाई दिया। जिसमें पीड़िता द्वारा दिया ऑटो का नंबर सही था।

योगी शासन में क्राइम उफान पर, फिरोजाबाद में छात्रा के साथ गैंग रेप

ऑटो चालकों से भी पूछताछ
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पीड़िता जिस अस्पताल में नौकरी करती थी। वहां पर खड़े होने वाले कई ऑटो चालकों से भी पूछताछ की गई। जिनको ऑटो नंबर के बारे जानकारी देकर चालक की पहचान करने की कोशिश की गई। जिनसे काफी महत्वपूर्ण जानकारी मिली। ऑटो वाला वहां पर पहले भी कई बार सवारी ले जाता हुआ दिखाई दिया था। 

किराए पर चलाता था ऑटो
ऑटो की ऑथोरिटी से जानकारी के बाद पता चला कि ऑटो फाईनेंस करा रखा है। जिसका मालिक कोई और है। मालिक से पूछताछ करने करने पर पता चला कि आरोपी भानू उसका ऑटो किराए पर काफी समय से चलाया करता है। भानू बाबरपुर स्थित शाह आलम बंध में परिवार के साथ रहता है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी भानू को गिरफ्तार कर लिया।  

4 करोड़ लेकर भागे  Collection एजेंट और उसका साथी गिरफ्तार

पीड़िता की हिम्मत देखकर भाग गया था चालक
पुलिस सूत्रों की मानें तो पीड़िता अक्सर घर से अस्पताल और अस्पताल से घर अकेली ही आती है। उसको अकेले आने जाने में कभी भी परेशानी नहीं हुई। वारदात के वक्त जब उसे लगा कि आरोपी कुछ गलत रुट पर ले जा रहा है। वह पहले से ही सचेत हो गई थी। जब आरोपी ने ऑटो रोककर उसके साथ गलत हरकत करने की कोशिश की तो वह उससे भिड़ गई थी। पीड़िता के साहस को देखते हुए आरोपी को खुद को पकड़े जाने का डर लग गया था। वह उसका मोबाइल फोन लूटकर फरार हो गया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.