Sunday, Oct 17, 2021
-->
Baba Ramdev''s Yog gram is the target of cyber criminals, cheated money in the getting treatment

साइबर क्रिमिनलों की निशाने बाबा रामदेव के योग ग्राम, इलाज दिलाने के नाम रुपए ठगे

  • Updated on 9/9/2021

नई दिल्ली, टीम डिजीटल:दिल्ली से सटे नोएडा में हर दिन साइबर ठग नए-नए तरीके से लोगों को अपने जाल में फंसाकर उन्हें ठग रहे हैं। इस बार साइबर अपराधियों ने भारत सरकार के आकाशवाणी उपक्रम के पूर्व संयुक्त निदेशक के साथ ठगी की है। ठगों ने फेसबुक पर विज्ञापन देकर पूर्व संयुक्त निदेशक को बाबा रामदेव के योग ग्राम में इलाज दिलाने के नाम हजारों रुपए ठगे हैं। पीडि़त ने एसीपी साइबर क्राइम सेक्टर-108 में शिकायत दी है। उन्होंने थाना सेक्टर 49 पुलिस को मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं। 
जानकारी के मुताबिक नोएडा सेक्टर-77 में राजेंद्र उपाध्याय रहते हैं। वह भारत सरकार के उपक्रम आकाशवाणी के निदेशक पद से रिटार्यड हैं। बीते दिनों उन्होंने फेसबुक पर बाबा रामदेव के योग ग्राम में इलाज कराने का एक विज्ञापन देखा। उस पर क्लिक करने पर उन्हें पता चला कि चार दिन योगराम में इलाज कराने पर आठ हजार रुपए खर्चा आए, तभी उनके पास एक व्यक्ति का फोन आया और उसने कहा कि वह योग ग्राम से बोल रहा है। चार दिन का पैकेज खत्म हो गया है। अब उन्हें पांच दिन का पैकेज लेना पड़ेगा। इसका उन्हें दस हजार रुपए एकाउंट में डालना पड़ेगा।

इस पर राजेंद्र उपाध्याय राजी हो गए और आरोपी ठग के द्वारा व्हाट्सअप पर भेज गए एकाउंट नंबर पर दस हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए। ठग ने फिर से पीडि़त को फोन किया और कहा कि पांच दिन का पैकेज भी खत्म हो गया। अब उन्हें सात दिन का पैकेज लेना पड़ेगा। इस पर पीडि़त ने चार हजार रुपए और उनके खाते में ट्रांसफर कर दिए। आरोपी ठग ने उनके व्हाट्स पर रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट आदि भेज दिया। इसके बाद ठग ने फिर से पीडि़त को फोन कर कहा कि वह मेडिकल खर्च के लिए साढ़े चार हजार रुपए खाते में और जमा कर दें। इस पर पीडि़त ने बताया कि वह जब 11 सितम्बर को योग ग्राम आएंगे, तो वह वहीं पर रुपए जमा कर देंगे। 
 

बातचीत के दौरान पीडि़त को हुआ ठगी का अहसास 
ऐसे में आरोपी ठग उन पर खाते में रुपए डालने का दबाव बना रहा है। इस पर उन्होंने मना किया और कहा कि उनके पैसे वह वापस कर दें। इस पर आरोपी ने कहा कि सिर्फ दस प्रतिशत रुपए ही वापस किए जाएंगे। बातचीत के दौरान पीडि़त को ठगी का अहसास हुआ। बुधवार को को पीडि़त ने सेक्टर-108 स्थित एसीपी साइबर क्राइम से मामले की शिकायत की है। जिसके बाद उन्होंने मामला दर्ज करने का थाना सेक्टर-49 पुलिस को निर्देश दिए।

comments

.
.
.
.
.