Monday, Jan 25, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 25

Last Updated: Mon Jan 25 2021 09:39 PM

corona virus

Total Cases

10,672,185

Recovered

10,335,153

Deaths

153,526

  • INDIA10,672,185
  • MAHARASTRA2,009,106
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA936,051
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,740
  • NEW DELHI633,924
  • UTTAR PRADESH598,713
  • WEST BENGAL568,103
  • ODISHA334,300
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,203
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,930
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,640
  • HIMACHAL PRADESH57,210
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
badaun rape murder case women commission trolled statement congress aap questions rkdsnt

बदायूं कांड : अपने बयान को लेकर ट्रोल हुईं महिला आयोग की सदस्या, विपक्ष ने उठाए सवाल

  • Updated on 1/7/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय महिला आयोग के प्रतिनिधिमंडल ने बदायूं जिले में मंदिर गई एक महिला की कथित सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या के मामले में पीड़ित परिवार से बृहस्पतिवार को मुलाकात की और इस घटना में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए। इसके साथ ही आयोग की सदस्या चंद्रमुखी का बयान भी आयोग की भूमिका पर सवाल उठा गया। आयोग की सदस्या ने कहा कि अगर पीड़ित महिला शाम को बाहर नहीं निकलती या किसी को साथ लेकर निकलती तो उसके साथ ये वाकया नहीं हुआ होता। इस बयान को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाने शुरु कर दिए हैं। 

किसान आंदोलन को लेकर हरसिमरत कौर ने पीएम मोदी से की अपील 

कांग्रेस के रोहन गुप्ता ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी का बयान निंदनीय है। महिला किसी भी समय घर से बाहर निकले, उसकी सुरक्षा होनी चाहिए। महिला आयोग में बैठ कर भी महिला को ही घटना का जिम्मेदार ठहराया जा रहा है?' उधर आम आदमी पार्टी ने भी अपने ट्वीट में लिखा है, "अगर शाम के समय महिला बाहर ना गयी होती तो ऐसी घटना ना होती।" - ये हैं राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य जिन्हें आदित्यनाथ सरकार और बलात्कारी नहीं, बल्कि बलात्कार पीड़िता ही गुनाहगार लगी। शर्म करो।'

TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कोर्ट से अवमानना मामले में कार्यवाही रोकने का किया अनुरोध

प्रतिनिधिमंडल यह भी कहा कि महिलाओं को शाम के समय अकेले नहीं जाना चाहिये था, लेकिन यह घटना सुनियोजित थी। आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार से उसके गांव जाकर मुलाकात की। चंद्रमुखी ने संवाददाताओं से कहा कि महिलाओं को किसी के भी बहकावे के आकर कहीं भी अकेले नहीं जाना चाहिए। उन्होंने कहा, 'मैं सोचती हूं कि अगर संध्या के समय वह महिला अकेले नहीं गयी होती या परिवार का कोई बच्चा साथ में होता, तो शायद ऐसी घटना नहीं हुई होती, लेकिन यह सुनियोजित था।’’ उन्होंने कहा कि ‘‘सामूहिक दुष्कर्म और हत्या’’ की वारदात जघन्य है और इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। चंद्रमुखी ने कहा कि सरकार ऐसे मामलों को लेकर बहुत सख्त है, फिर भी ऐसी घटनाएं हो जाती हैं। 

दिल्ली दंगे: उमर खालिद के खिलाफ चार्जशीट ‘लीक’ होने पर पुलिस को नोटिस


उन्होंने कहा, 'मैं पुलिस की भूमिका से संतुष्ट नही हूं। अगर समय रहते कार्रवाई होती, तो शायद महिला की जान बच जाती।' उन्होंने कहा, 'महिला बेहोशी की स्थिति में थी। उसे अगर इलाज मिल जाता, तो वह बच जाती। मामला दर्ज करने में बहुत देर की गई। इसके अलावा पोस्टमार्टम में भी विलंब हुआ।' चंद्रमुखी ने कहा, "किसी थाना प्रभारी को निलबिंत करना काफी नहीं है। हमने एसएसपी से कहा है कि किसी दबाव में किसी को बख्शा नहीं जाना चाहिए। मिशन शक्ति और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जैसे अभियानों के बाद भी ऐसी घटनाएं हो रही हैं। इसका मतलब यह है कि अपराधियों में पुलिस का खौफ नहीं है।' 

नई विज्ञान नीति के तहत वैज्ञानिकों की ‘लैटरल‘‘ भर्ती करने की तैयारी में मोदी सरकार

बुधवार देर रात बदायूँ पहुची आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी ने अधिकारियों के साथ बैठक कर कांड की पूरी जानकारी हासिल की। गौरतलब है कि गत रविवार को बदायूं जिले के उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव में मंदिर गयी 50 वर्षीय एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। महिला के परिजन ने मंदिर के महंत सत्य नारायण और उसके दो साथियों पर बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया है। इस आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर वेद राम और जसपाल को मंगलवार रात गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी महंत फरार है और उसे गिरफ्तार करने के लिए चार टीमें गठित की गई हैं। 

होंडा मोटरसाइकिल ने किया अपने कर्मचारियों के लिए VRS का ऐलान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बदायूं की वारदात को गंभीरता से लेते हुए बरेली जोन के अपर पुलिस महानिदेशक से रिपोर्ट तलब की है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जरूरत पडऩे पर मामले की जांच में विशेष कार्य बल की भी मदद ली जाए, दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो और मामले की सुनवाई त्वरित अदालत में की जाए। इस मामले में लापरवाही बरतने पर तत्कालीन थाना प्रभारी को निलम्बित कर दिया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा के मुताबिक, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला से बलात्कार की पुष्टि हुई है। जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर यशपाल सिंह का कहना है कि महिला की मौत सदमे और अत्यधिक रक्तस्राव की वजह से हुई है।

किसान आंदोलन : कृषि कानूनों के खिलाफ मामले का सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में टली

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.