Wednesday, Jul 24, 2019

ससुराल से परेशान होकर मायके भाग रही विवाहिता से गैंगरेप, जाने पूरी खबर

  • Updated on 6/19/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मायके से भाग कर पटना पहुंची विवाहिता (19 वर्ष) के साथ राजेन्द्र नगर पुल के नीचे दो युवकों ने कथित तौर पर गैंगरेप किया। कदमकुआं पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपित दो युवकों समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि विवाहिता ने पुलिस को दिए गए बयान में बताया है कि पकड़ा गया तीसरा युवक उसे बचाना चाह रहा था लेकिन उसके साथ मारपीट की गई।

घटना मंगलवार की रात करीब डेढ़ से दो बजे की है। मायके से भागने के बाद वह मुम्बई जाने के लिए रात के बारह बजे ट्रेन पकड़ने राजेन्द्र नगर रेलवे स्टेशन पहुंची थी। लेकिन उसके पहुंचने के पहले ट्रेन छूट चुकी थी। दूसरी ट्रेन के इंतजार में वह जंक्शन के आसपास ही भटक रही थी। उसे अकेली देख ई-रिक्शा चालक दीपक ने कहा कि अकेले कहां जाओगी। वह ई-रिक्शा पर बैठाकर मुझे अपने घर ले जाने लगा। इतने में दो युवक छोटू और रंजीत पीछे पड़ गए। इन दोनों युवकों ने पहले ई-रिक्शा चालक दीपक से मारपीट की। बाद में मुझे उठाकर राजेन्द्र नगर पुल के नीचे ले गए। इसके बाद दोनों ने एक ठेले पर मेरे साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। 

Image result for ससुराल से परेशान होकर मायके भाग रही विवाहिता से गैंगरेप, जाने पूरी खबर
 
घटना को अंजाम देने के बाद तीनों मुझे राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन छोड़ने जा रहे थे। इतने में दीपक ने आरपीएफ (RPF) को घटना की जानकारी दे दी। इसके बाद स्थानीय लोगों की मदद से आरोपियों को पकड़ लिया गया। आवेदन देने पर कदमकुआं थाने में गैंग रेप की प्राथमिकी (FIR) दर्ज की गई। तीनों से पूछताछ की जा रही है। वहीं बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया है। .

नालंदा निवासी गैंगरेप पीड़िता की शादी 18 मई 2018 को हुई थी। पीड़िता की ससुराल पटना में है। शादी के बाद वह महज छह महीने ही ससुराल में रही थी क्योंकि वह इस शादी से खुश नहीं थी। इसके चलते ही वह नालंदा स्थित मायके से भागकर पटना चली आई। माता-पिता हमेशा ससुराल जाने की बात करते थे, इससे नाराज होकर वह 16 जून को मायके से भी भाग गई। मायके से आने के बाद कदमकुआं के अमरुदी गली में एक अनजान महिला के घर रह रही थी। 17 जून की रात को मुम्बई भागना चाहती थी, लेकिन इससे पहले उसके साथ शर्मनाक घटना घटित हो गई। 

दर्ज है मिसिंग रिपोर्ट
विवाहिता के गायब होने की रिपोर्ट लड़की के पिता ने 17 जून को थरथरी थाने में दर्ज करायी थी। लड़की 16 जून को घर से निकली थी। 

पुलिस ने पीड़िता की उम्र को घटा कर लिखा
कदमकुआं पुलिस ने विवाहिता द्वारा दिये गए बयान का हवाला देते हुए उसकी उम्र 16 वर्ष दर्ज की है। बयान में पीड़िता 2017 में ही मैट्रिक की परीक्षा पास की थी। हिन्दुस्तान संवाददाता ने रेप पीड़िता के वास्तविक उम्र का पता करने के लिए बिहारशरीफ के थरथरी थाना प्रभारी से गुमशुदगी रिपोर्ट के बारे में जानकारी मांगी। इसमें थाना प्रभारी ने बताया कि रिपोर्ट में विवाहिता की उम्र 19 वर्ष दर्ज करायी गई है। ऐसे में सवाल उठता है कि कदमकुआं पुलिस को पीड़िता ने किस दबाव में अपनी उम्र कम बतायी? वहीं पीड़िता की उम्र कम करने की वजह भी सवालों के घेरे में है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.