Saturday, Jul 21, 2018

मुन्ना बजरंगी ने इसे शख्स को कहा था 'मोटा', बदला लेने के लिए दागी 10 गोलियां

  • Updated on 7/18/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्वांचल का कुख्यात डॉन प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई। उसकी हत्या के पीछे सुनील राठी का नाम सामने आ रहा है। पुलिस ने राठी को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ के राठी ने कहा कि मुन्ना ने उसे लुक पर कॉमेंट किया था जो उसे अच्छा नहीं लगा।

स्कूल जा रहे शिक्षक की गोली मार कर हत्या

मुन्ना और अपनी मुलाकात के बारे में राठी ने बताया कि दोनों टहलते वक्त जेल में मिले थे। सुनील राठी पहले से ही जेल में बंद है। जेल प्रशासन की ओर से सुनील राठी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। पूछताछ के दौरान राठी ने कहा कि उसने मुझे मोटा कहा था मैं बहुत मोटा हूं। मुझे ये बात बिल्कुल पसंद नहीं आई। मैंने तभी बजरंगी को जवाब देते हुए कहा कि पहले तुम अपनी स्थिती सुधारो। इसके बाद हम दोनों के बीच बहस शुरू हो गई और उसने मेरे उफर बंदूक तान दी। मैंने उससे बंदूक छीन ली और उसे लात मारकर गिरा दिया।

जैसे ही वो नीचे गिरा मैंने सारी गोलियां उसमें उतार दी। हालांकि पुलिस रााठी के इस बयान से संतुष्ट नहीं है। मामले की जांच कर रहे एक अधिकारी ने बताया कि बागपत जेल में मुन्ना से ज्यादा सुनील राठी के लिए परेशानी थी। एक गवाह ने बताया था कि सुनील ने एकांत सेल (आइसोलेशन सेल) के बाहर बने गार्डन में टहलते हुए बिना वजह खुलेआम फायरिंग शुरू कर दी थी। एक अधिकारी ने बताया कि बजरंगी की हत्या पूर्व नियोजित थी।

UP में चाइनीज रिमोट से होती है करोड़ों की बिजली चोरी, मेरठ में मचा हड़कंप

वहीं स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि मुन्ना के शरीर में कोई  भी गोनी नहीं मिली है। सारी गोलियां उसके शरीर से  पार हो गई हैं। इस कारण इस बात का पता नहीं लगाया गया है कि उसके शरीर में कुल कितनी गोलियां थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.