बुलंदशहर हिंसा: अब नए आरोपी का इंस्पेक्टर की हत्या से इंकार, पुलिस की फजीहत

  • Updated on 12/28/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित गोकशी के बाद हुई हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर गोली चलाने के आरोपी प्रशांत नट को शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया।

पूंजी कोष कम करना बैंकों, अर्थव्यवस्था के लिए हो सकता है घातक: RBI

अदालत ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस बीच मीडिया से बात करते हुए प्रशांत ने हत्या में अपना हाथ होने से इनकार किया है। इसके साथ ही यूपी पुलिस पर उसकी गिरफ्तारी पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। 

RBI के रिजर्व फंड पर सुझाव देने को बिमल जालान की अध्यता में बनी कमेटी

प्रशांत को बृहस्पतिवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) प्रभाकर चौधरी के मुताबिक नट से पूछताछ में यह पता चला है कि स्याना इंस्पेक्टर सिंह पर सबसे पहले एक अन्य आरोपी कलुआ ने कुल्हाड़ी से वार किया था।  

न्यू ईयर 2019 पर लाइसेंस फीस दिए बगैर Bollywood Songs बजाने पर रोक

उन्होंने बताया कि इंस्पेक्टर ने आत्मरक्षा में गोली चलाई, जिसमें एक गोली सुमित नाम के एक युवक को लगी थी, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके कुछ देर बाद प्रशांत ने इंस्पेक्टर की पिस्तौल छीनकर उनकी आंख के पास गोली मारी थी, जिससे उनकी मौत हो गई। घटना के दो चश्मदीदों ने भी इंस्पेक्टर को गोली मारने में प्रशांत की पहचान की है।

शिवसेना के पीएम मोदी पर नहीं थम रहे हैं हमले, BJP को लिया आड़े हाथ

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.