बुलंदशहर हिंसा: अन्य मृतक सुमित के घर वालों को 10 लाख की मदद, आज आएगी रिपोर्ट

  • Updated on 12/5/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर की घटना पर बेहद गंभीर होकर जांच के निर्देश दिए। इस मामले पर आज रिपोर्ट सौंपी जाएगी। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस घटना की गंभीरता से जांच कर गोकशी में संलिप्त सभी व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाए। इसके लिए अधिकारी एडीजी इंटेलिजेंस एसवी शिरोडकर बुलंदशहर पहुंच गए हैं।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश के मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, प्रमुख सचिव गृह, खुफिया विभाग के अपर पुलिस महानिदेशक के साथ बैठक की। उन्होंने इस गंभीर घटना की समीक्षा कर निर्देश दिया कि इस घटना की गंभीरता से जांच कर गोकशी में संलिप्त सभी व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाए।

बुलंदशहर हिंसा के लिए AAP ने CM योगी, CPIM ने BJP-RSS पर साधा निशाना

सुमित के परिवार वालों को 10 लाख की मदद
घटना एक बड़े षडयंत्र का हिस्सा है इसलिए गोकशी से संबंध रखने वाले प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष सभी को समयबद्ध रूप से गिरफ्तार किया जाए। प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने मृतक सुमित के परिवार वालों को मुख्यमंत्री राहत कोष से 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।

सुबोध के पिता को भी भीड़ ने बनाया था अपना शिकार, उन्हीं की जगह मिली थी नौकरी

उल्लेखनीय है कि 19 मार्च 2017 से अवैध बूचड़खानों को बंद कर दिया गया है। इस घटनाक्रम में सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को यह निर्देश दिया गया है कि जिले स्तर पर ऐसे अवैध कार्य ना हो, यह सुनिश्चित करना उनकी सामूहिक जिम्मेदारी होगी और मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक यह सुनिश्चित करें कि इस आदेश का जिले स्तर पर अनुपालन किया जाए। यह भी निर्देश दिया गया कि एक अभियान चलाकर जो तत्व माहौल खराब कर रहे हैं उनको बेनकाब कर इस तरह की साजिश रचने वालों के विरुद्ध प्रभावी कार्रवाई की जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.