Monday, Aug 15, 2022
-->
by-2030-igi-will-be-a-net-zero-carbon-emission-airport

वर्ष 2030 तक आईजीआई होगा नेट जीरो कार्बन उत्सर्जन करने वाला एयरपोर्ट

  • Updated on 11/23/2021

वर्ष 2030 तक आईजीआई होगा नेट जीरो कार्बन उत्सर्जन करने वाला एयरपोर्ट
- डायल ने एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल (एसीआई) के सीओपी 26 में की घोषणा
साल 2016 में आईजीआई बना था एशिया पैसिफिक रीजन का पहला कार्बन न्यूट्रल एयरपोर्ट

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

राजधानी दिल्ली का इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (आईजीआई) एशिया पैसिफिक रीजन का पहला कार्बन न्यूट्रल एयरपोर्ट है, जिसे एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल (एसीआई) की ओर से कार्बन उत्सर्जन प्रबंधन के लिए लेवल-4 प्लस एक्रेडेशन प्राप्त है। अब आईजीआई एयरपोर्ट ऑपरेटर जीएमआर नेतृत्व वाली दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) ने वर्ष 2030 तक नेट जीरो कार्बन उत्सर्जन एयरपोर्ट बनाने की घोषणा की है। यह घोषणा डायल के सीईओ विदेह कुमार जयपुरियार ने एसीआई के सीओपी 26 कार्यक्रम के दौरान की है। गौरतलब हो कि एसीआई ने एयरपोर्ट्स के लिए वर्ष 2050 तक नेट जीरो कार्बन का लक्ष्य रखा है।
डायल की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार गत दिनों एसीआई ने ग्लासगो में कार्बन उत्सर्जन सीओपी 26 नामक प्रोग्राम का आयोजन किया था। इसमें कार्बन उत्सर्जन को की मात्रा में न्यूनतम करने के लिए परिवर्तन और अंतिम उपाय पर एक सत्र का आयोजन किया गया था। इसमें विशेष रूप से आवश्यक प्रदूषण नियंत्रण के साथ पर्यावरण सुरक्षा, विमानों के परिचालन से पडऩे वाले प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए विकसित किए जाने वाले सिस्टम और सुरक्षा उपायों को अपनाने पर बल दिया गया।
सीईओ ने बताया कि इसके डायल एयरपोर्ट पर अनुकूल बुनियादी ढांचे के विकास, इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग सुविधा, अत्याधुनिक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) और वाटर ट्रीटमेंट प्लांट (डब्ल्यूटीपी), ऊर्जा कुशल प्रकाश व्यवस्था, उन्नत ईंधन हाइड्रेंट सिस्टम के विकास पर बल दे रही है। इसके अलावा, तकनीकी रूप से उन्नत उपाय अपनाते हुए एयरपोर्ट पर इलेक्ट्रिक वाहनों और टैक्सीबोट्स जोकि  एक अर्ध-रोबोटिक वाहन है जिससे रनवे पर विमानों को लाने ले जाने का काम किया जाता है की व्यवस्था की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.