Sunday, Dec 04, 2022
-->
case has been filed against prannoy roy and others for alleged violation of fdi rules

एफडीआई नियमों के कथित उल्लंघन के मामले में प्रणय रॉय और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज

  • Updated on 8/21/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सीबीआई ने एनडीटीवी के प्रोमोटरों प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय सहित अन्य के खिलाफ प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई)  (FDI) नियमों के कथित उल्लंघन को लेकर मामला दर्ज किया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

हथियारबंद बदमाशों ने ट्रांसपोर्टर से कि लूट-पाट, पुलिस कर रही मामले की जांच

उन्होंने बताया कि एजेंसी ने एनडीटीवी (NDTV) के पूर्व सीईओ (CEO) विक्रमादित्य चंद्रा पर भी आपराधिक षडयंत्र रचने, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार (Corruption) के आरोप में मामला दर्ज किया है। ऐसा आरोप है कि कंपनी ने कर चोरी के पनाह माने जाने वाले विदेशी ठिकानों पर 32 सहायक कंपनियां स्थापित की ताकि वहां से हेराफेरी करके धन भारत लाया जा सके। 

हरियाणा में विपक्षी दलों का महागठबंधन मात्र ख्याली पुलाव: मनोहर लाल खट्टर

NDTV के प्रमोटर प्रणय रॉय (Prannoy Roy) , उनकी पत्नी राधिका रॉय (Radhika Roy) और CEO विक्रमादित्य चंद्रा और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ सीबीआई ने क्रिमिनल कॉन्सिपिरेसी, जालसाजी और भ्रष्ट्राचार का केस दर्ज किया है. आरोप हैं कि कंपनी ने कई गलत ट्रांजैक्शन के जरिए 32 सब्सिडियरी में विदेशों से फंड लाया।

मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रणय रॉय पर CBI ने किया मामला दर्ज
इससे पहले NDTV के प्रमोटर प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय को मुंबई एयरपोर्ट (Mumbai Airport) पर विदेश जाने से रोक दिया गया था। दोनों ही मनी लॉन्ड्रिंग के मामले के तहत CBI जांच का सामना कर रहे थे। मिली जानकारी के मुताबिक दोनों को एयरपोर्ट अथॉरिटी ने CBI के आदेश पर विदेश जाने से रोका था। जिसके बाद NDTV ने इसका विरोध करते हुए एक ट्वीट भी किया था और कहा था कि ये मीडिया की आजादी पर हमला हैं। हालांकि कंपनी ने अपने बयान में ये नहीं बताया है कि वे दोनों किस कारण से विदेश जा रहे थे।

विदेश जाने से भी रोका गया था 
NDTV के उस ट्वीट में लिखा था कि ‘ये पूरी तरह से मीडिया के मूल अधिकारों पर सीधा हमला है। NDTV के संस्थापक राधिका रॉय और प्रणय रॉय को विदेश जाने से रोका गया। वो एक हफ्ते के लिए काम के सिलसिले में देश से बाहर जा रहे थे और 15 तारीख को वापस भारत आ जाते। लेकिन 2 साल पहले एक झूठे भ्रष्टाचार के मामले के आधार बनाकर दोनों को विदेश जाने से रोका गया। जबकि वो मामले की जांच में पूरा सहयोग कर रहे थे। इस घटना से ये साबित होता है कि मीडियावालों के लिए चेतावनी है कि या तो वो सरकार पीछे चले या फिर अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें।’

SEBI भी कर चुका है कार्रवाई
इससे पहले जून महीने में भी सिक्योरिटी एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने NDTV के तीन प्रोमोटर्स को सिक्योरिटीज मार्केट में दो साल के लिये प्रतिबंधित कर दिया था। इन प्रोमोटर्स में प्रणय रॉय, राधिका रॉय और इन दोनों की कंपनी RRPR होंल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड शामिल है। CBI ने 2 साल पहले प्रणय रॉय की कंपनी RRPR द्वारा ICICI बैंक से लिए गए एक लोन को लेकर मामला दर्ज किया था। ये लोन समय से पहले ही सूद समेत चुका दिया गया था। इसे दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती दी गई है। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.