Monday, Nov 29, 2021
-->
caught with a minor who stabbed asi with knives

एएसआई पर चाकूओं से वार करने वाला नाबालिग के साथ पकड़ा

  • Updated on 10/11/2021

 

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। मंगोलपुरी इलाके में बीते शुक्रवार शाम को दिल्ली पुलिस में तैनात एएसआई पर ऑटो सवार बदमाश ने चाकू मारकर जानलेवा हमला किया था। एएसआई के करीब 55 टांके हाथों पर लगे थे। वारदात में शामिल एक नाबालिग और उसके साथी को पुलिस ने पकड़ लिया है। एक आरोपी की पहचान इन्द्रजीत के रूप में हुई है। आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल ऑटो और वारदात में इस्तेमाल चाकू भी जब्त कर लिया है।  इन्द्रजीत गामडी एक्सटेंशन, भजनपुरा का रहने वाला है। वह पहले राजौरी गार्डन इलाके में एक पुलिस कर्मी पर हमला करने समेत पांच वारदातों में शामिल रहा है। वारदात में घायल एएसआई की पुलिस अधिकारियों ने भी तारिफ की थी। जिसने घायल होने के बाद भी आरोपियों को पकडऩे की पूरी कोशिश की थी।

जिला पुलिस उपायुक्त परविन्द्र सिंह ने बताया कि बीते शुक्रवार की रात छह बजकर 53 मिनट पर पीसीआर से पुलिसकर्मी की पिटाई करने की कॉल मिली थी। शिकायतकर्ता सुरेश कुमार था। जो कि बाहरी उत्तरी जिला में एसीपी ऑपरेशान सेल में ड्राइवर के पद पर तैनात है। वह अपने ऑफिस से घर जाने के लिये निकला था। करीब पौने पांच बजे वह बस से पुष्पांजली बस स्टैण्ड पर उतरकर दूसरी बस का इंतजार कर रहा था।

उसे पीछे सर्विस रोड से कुछ टूटने की आवाज सुनाई दी। जब उसने देखा,एक युवक खड़ी ऑडी कार का चालक की तरफ का साइड का शीशा तोडक़र ले जा रहा था। वह कुछ ही दूरी पर खड़े ऑटो में चालक के पास जाकर बैठ गया था। उसने तुरंत भागकर चालक को रोकने की कोशिश की। उसका कॉलर पकड़ लिया।

जिसने शीशा तोड़ा था,उसने चालक को ऑटो भगाने के लिये बोला। वह चलते ऑटो में किसी तरह से पकडक़र पीछे की तरफ लट गया और बदमाशों को पकडऩे की कोशिश करने लगा। करीब एक किलोमीटर तक उसने बदमाशों को रोकने की कोशिश की थी।  इस बीच आरोपी ने उसके दोनों हाथों पर चाकू से कई वार किये। उसके हाथों से काफी खून बहने लगा। ऑटो तरुण एंक्लेव के पास पहुंचा। सामने से एक कार आ गई।

ऑटो की रफ्तार धीमी होने पर वह तुरंत रिक्शा से कूद गया। जबकि दोनों आरोपी ऑटो समेत दीपाली चौक की तरफ तेजी से भाग गए। ऑटो का वह अधूरा नंबर भी नोट कर पाया था। सुरेश को तुरंत नवजीवन अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसके हाथ पर 50 से 55 टांके लगे थे। पुलिस ने मामला दर्ज किया। एसीपी वीरेंद्र कादियान की देखरेख में एसएचओ मुकेश कुमार के निर्देशन में पुलिस टीम को आरोपियों को पकडऩे का जिम्मा सौंपा गया।

शिकायतकर्ता द्वारा बताए गए अधूरे ऑटो नंबर को लेकर जांच शुरू की गई। वारदात वाले रूट पर लगे सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। सीसीटीवी फुटेज में टीएसआर मुकरबा चौक-बाईपास की ओर जाता हुआ दिखाई दिया। ऑटो की पहचान करने के बाद उसके मालिक से पूछताछ की।  गामड़ी एक्सटेंशन,भजनपुरा में रहने वाले फिरोज ने बताया कि उक्त समय पर उसका नाबालिग बेटा ऑटो ले गया था। नाबालिग से पूछताछ की गई।

जिसने बताया कि वह इंद्रजीत के साथ ऑटो लेकर गया था। जब इन्द्रजीत ने प्रीतपुरा इलाके में खड़ी ऑडी कार का साइड का शीशा तोडक़र ऑटो में बैठ गया था। एएसआई ने उनका पीछा किया और पिछली सीट पर बैठ गया था। जिससे वह काफी घबरा गए थे। इन्द्रजीत ने चाकू से एएसआई पर अनगिनत हाथ पर वार किये थे। वह खून से लथपथ हालत में सडक़ पर गिर गया था। जब वह इन्द्रजीत के साथ ऑटो लेकर भाग गया था। पुलिस ने नाबालिग की निशानदेही पर इन्द्रजीत को भी गिरफ्तार कर लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.