Sunday, Nov 28, 2021
-->
cheated-200-people-by-luring-big-profits-arrested-along-with-main-accused-girlfriend

मोटे मुनाफे का लालच देकर 200 लोगों से की ठगी  मुख्य आरोपी-प्रेमिका के साथ गिरफ्तार

  • Updated on 10/19/2021

मोटे मुनाफे का लालच देकर 200 लोगों से की ठगी 
मुख्य आरोपी-प्रेमिका के साथ गिरफ्तार

नई दिल्ली, टीम डिजिटल। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा पुलिस ने एक आरोपी व उसकी महिला मित्र को गिरफ्तार किया है। आर्थिक अपराध शाखा के अनुसार आरोपी व उसकी महिला मित्र ने मिल कर एक फर्जी कंपनी बना कर कई प्रकार की योजनाओ में पैसा लगाने पर मोटे मुनाफे का झांसा देकर करीब दो सौ लोगों के साथ लाखों रुपए की ठगी की वारदात को अंजाम दिया है। 

आर्थिक अपराध शाखा के अतिरिक्त आयुक्त आरके सिंह ने बताया कि आरोपी प्रवीण कुमार सिंह और उसकी एक महिला मित्र के साथ गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस उपायुक्त मोहम्मद अली और सहायक पुलिस आयुक्त रमेश कुमार नारंग की निगरानी में उप निरीक्षक चेतन मांडिया, प्रवीण बदसारा,  हवलदार सुनील, कांस्टेबल ललित के एक दल ने गुप्त सूचना के आधार पर आरोपियों को गाजियाबाद में कौशांबी मेट्रो स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया।

अतिरिक्त आयुक्त आरके  सिंह ने बताया कि कई निवेशकों की शिकायत पर आर्थिक अपराध शाखा थाने में 21 जून 2018 को प्राथमिकी दर्ज की गई थी । प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से आरोपी फरार चल रहे थे। दो फरवरी.2020 को आरोपियों को कडक़डड़ूमा स्थित मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत ने भगोड़ा घोषित कर दिया था।

आरोप है कि परवीन ने फर्जी तरीके से जय मां लक्ष्मी को ऑपरेटिव थ्रिफ्ट एंड क्रेडिट सोसायटी लिमिटेड में लोगों से निवेश कराकर सात लाख से अधिक रुपए की ठगी की। पूर्वी दिल्ली के मंडावली में फाजलपुर कॉलोनी में उसकी अर्पित क्लॉथ स्टोर नाम से एक दुकान है, जहां पर वह आने वाले ग्राहकों को अपनी कथित कंपनी में निवेश कर मोटा मुनाफा कमाने का लालच दे कर ठगी को अंजाम देता था।

जांच के दौरान पता चला कि उसकी कंपनी  भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से रुपए जमा कराने के लिए मान्यता प्राप्त नहीं है फिर भी वह लोगों से पैसा जमा करा था । वह फ्लैट बुकिंग,  लकी ड्रॉ , लोन स्कीम और रुपए जमा करने पर भारी ब्याज की स्कीमों के तहत लोगों से रुपए जमा कराता था । रुपए जमा कराने के बाद जब लोगों को मुनाफा और रकम नहीं दी गई तो लोगों ने पुलिस को  शिकायत दी, शिकायतों के आधार पर जांच की गई तो दोनों के कारनामों का पर्दाफाश हो गया।  पुलिस दोनों से पूछताछ के आधार पर जांच की जा रही है जिससे पता चल सके कि कितने लोगों के साथ धोखाधड़ी की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.