Sunday, May 22, 2022
-->
chinmayananda bjp leader in trouble bail plea stuck in uttar pradesh lawyers strike

चिन्मयानंद मुश्किल में, वकीलों की हड़ताल में फंसी जमानत याचिका

  • Updated on 9/21/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कानून की छात्रा के यौन उत्पीड़न के आरोपी पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद की जमानत की अर्जी शनिवार को वकीलों की हड़ताल की वजह से दाखिल नहीं हो सकी। उधर, दूसरी ओर जेल में चिन्मयानंद की पहली रात आराम से कटी और वह पांच घंटे सोए और सुबह उठकर एक घंटे ध्यान भी लगाया। 

कॉलेजियम ने फैसला बदला, त्रिपुरा हाई कोर्ट के लिए न्यायमूर्ति कुरैशी के नाम की सिफारिश

जेल अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि स्वामी चिन्मयानंद को शुक्रवार को जिला कारागार लाया गया था। चिन्मयानंद ने इसके बाद दोपहर और शाम का भोजन किया। रात में चिन्मयानंद साढ़े दस बजे सोए और सुबह साढ़े तीन बजे जाग गए। उन्होंने बताया कि चिन्मयानंद ने इसके बाद लगभग एक घंटे ध्यान लगाया तथा पांच बजे बैरक खुलने तक वह अंदर ही टहलते रहे। 

#ExclusiveInterview : सेक्स रैकेट को लेकर मालीवाल बोलीं- दिल्ली को कतई बैंकॉक नहीं बनने दूंगी

जेल अधीक्षक ने बताया कि आज सुबह चिन्मयानंद ने दैनिक कार्यों से निवृत्त होने के पश्चात सुबह नाश्ते में बंदियों को मिलने वाली चाय पी और दलिया खाया। दोपहर में उन्होंने दाल-रोटी और सब्जी खाई। उन्होंने बताया कि चिन्मयानंद को कोई भी वीआईपी सुविधा नहीं दी जा रही है। चिन्मयानंद साधारण कैदियों की तरह बैरक में अन्य बंदियों के साथ रह रहे हैं। 

GST काउंसिल में लिए गए खास फैसले, जानिए किन चीजों पर घटा-बढ़ा टैक्स

वहीं दूसरी ओर एसआईटी सूत्रों ने बताया कि चिन्मयानंद मामले में पांच करोड़ रूपये की रंगदारी मांगने वाले आरोपी संजय, विक्रम और सचिन के अलावा ‘मिस ए’ (पीड़िता) भी है लेकिन उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के तहत पीड़िता का नाम बताया नहीं जा सकता। चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने बताया कि आज शनिवार होने के कारण यहां जिला अदालत के अधिवक्ता हड़ताल पर रहते हैं। 

बलात्कार पीड़िता की आत्महत्या पर NHRC का योगी सरकार को नोटिस

अधिवक्ता लंबे समय से शाहजहांपुर को लखनऊ उच्च न्यायालय की पीठ से जोड़ने की मांग कर रहे हैं। इसीलिए प्रत्येक शनिवार को यहां के अधिवक्ता हड़ताल पर होते हैं। इसी के चलते आज चिन्मयानंद की जमानत अर्जी दाखिल नहीं की जा सकी। स्वामी चिन्मयानंद को उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने शुक्रवार को शाहजहांपुर स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था। इससे कुछ सप्ताह पहले उनके एक कॉलेज की विधि की एक छात्रा ने उन पर बलात्कार के आरोप लगाये थे।

स्पा सेंटरों में सेक्स रैकेट को लेकर दिल्ली महिला आयोग का Justdial को नोटिस

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.