Thursday, Aug 16, 2018

दलित छात्र को सहपाठियों ने पिलाया पेशाब, छात्र ने की खुदकुशी की कोशिश

  • Updated on 8/8/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के जालंधर में आठवीं कक्षा के दलित छात्र को भीष्ण प्रताड़ना दिए जाने का मामला सामने आया है। मानवीयता को शर्मशार करने वाली इस घटना में दलित छात्र को उसके ही सहपाठियों ने छल से पेशाब पिला दिया। इतना ही नहीं, जब छात्र ने शिक्षक ने इसकी शिकायत की तो आरोपियों पर कार्रवाई करने के बजाए उसने उल्टा पीढ़ित छात्र पर ही थप्पड़ों की बौछारें कर दी। 

मुज्जफरपुर यौन उत्पीड़न कांड में आखिरकार मंत्री मंजू वर्मा पर गिरी गाज

इसके बाद घटना से दुखी होकर छात्र ने खुदकुशी का प्रयास किया। शिक्षक शिरकी शर्मा के खिलाफ 12 वर्षीय छात्र से कथित मारपीट और जातिवादी टिप्पणी करने के लिए मंगलवार को मामला दर्ज कर लिया गया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिछले शुक्रवार को घटी इस घटना के बाद निराश छात्र ने मकान की छत से छलांग लगा दी।

घटना में कई जगह उसकी हड्डी टूट गयी और उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। छात्र की मां ने शिकायत में कहा है कि लड़के के सहपाठियों ने पानी की बोतल से पानी निकाल कर उसे पेशाब से भर दिया। इससे अनजान लड़के ने बोतल का ढक्कन खोल कर उसे पी लिया तो उसका मजाक बनाया गया।

जब उसने अपने शिक्षक से इसकी शिकायत की तो शर्मा ने थप्पड़ मारा और उसे धमकाया और प्राधानाध्यापक के पास लेकर गए। लड़के की मां को स्कूल बुलाया गया जहां उनका अपमान किया गया और उनके बेटे के खिलाफ जातिवादी टिप्पणी की गई।  

पति ने की हैवानियत की सारी हदें पार, स्पर्म बेचने को लेकर बनाया पत्नी पर दबाव

अधिकारी ने बताया कि आईपीसी की धारा 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना) और अनुसूचित जाति और जनजाति (अत्याचार रोकथाम) कानून की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। राज्य अनुसूचित जाति आयोग ने मामले का संज्ञान लिया है। आयोग के सदस्य राज कुमार हंस ने स्कूल का दौरा किया और लड़के के परिवार से मिले। उन्होंने इस मामले पर 29 अगस्त तक रिपोर्ट मांगी है।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.