Sunday, Jan 19, 2020
delhi, fire anaj mandi rani jhansi road case against building owner

अनाज मंडी आग: पुुलिस ने फैक्ट्री मालिक को गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

  • Updated on 12/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली (Delhi) की अनाज मंडी इलाके की जिस फैक्ट्री में आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई थी, उसके मालिक को दिल्ली पुलिस (Delhi police) ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार को कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। 

बताया जा रहा है कि मालिक का नाम मोहम्मद रेहान है और वह आग लगने के बाद से ही फरार बताया जा रहा था। पुलिस ने इस मामले में उसके साथ में उसके भाई को भी गिरफ्तार किया है। बता दें कि इस आग में अब तक 43 लोगों की मौत हो चुकी है।  

सुबह 5 बजे लगी थी आग
दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित एक फैक्ट्री में रविवार की सुबह 5 बजे शॉर्ट सर्किट के कारण आग लग गई थी। जिस वक्त फैक्ट्री में आग लगी, उस समय करीब 60 की संख्या में मजदूर अंदर मौजूद थे। स्थानीय लोगों की मदद से गेट तोड़कर कुछ लोगों को बाहर निकाला गया। आग की भयावह का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि आग बुझाने में दमकल विभाग से करीब 30 गाड़ियां और 130 कर्मचारी को लगाया गया।

अनाज मंडी अग्निकांड: मनोज तिवारी के दावा- बिल्डिंग का मालिक रेहान है AAP कार्यकर्ता 

अग्निकांड के सियासत तेज हो गई
अनाज मंडी में हुई आग्निकांड के बाद सियासी हलचल भी तेज हो गई। एक तरफ भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ने आम आदमी पार्टी पर लापरवाही का आरोप लगाया तो वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने जांच के आदेश दिए। हादसे में अब तक 43 लोगों की मौत हुई, जिसमें बिहार (Bihar) के सबसे ज्यादा 28 व्यक्ति की आग के हवाले हो गए। मृतकों के परिजन को प्रधानमंत्री की ओर से 2-2 लाख और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 10-10 लाख रुपये देने का ऐलान किया है।   

 

 

 

comments

.
.
.
.
.