Tuesday, Sep 28, 2021
-->
delhi mahendra park police station extortion in rape case corrupt female si kmbsnt

दिल्ली: थाने में रेप केस सेलटमेंट करवाने की कोशिश, महिला SI सस्पेंड

  • Updated on 7/29/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महेंद्रा पार्क थाने में तैनात एक महिला सब इंस्पेक्टर ने रेप के मामले में सेटलमेंट करवाने की कोशिश की। कमरे में बैठे-बैठे ऑनलाइन दो लाख रुपए ट्रांसफर हुए। मामले की वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। जिला पुलिस उपायुक्त ऊषा रंगनानी ने संज्ञान लेते हुए महिला सब इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया है। जांच एडिशनल डीसीपी को सौंपी गई है। बताया गया कि महेंद्रा पार्क थाने में एक लड़की ने डॉक्टर के खिलाफ रेप व अन्य धाराओं में केस दर्ज कराया है। 

वहीं, आरोप है कि एफआईआर दर्ज कराने से पहले थाने में लड़की ने केस सेटलमेंट करने के लिए डॉक्टर से 50 लाख रुपए की डिमांड की थी। लेकिन सेटलमेंट की राशि 35 लाख रुपए तय हुई, जिसमें डॉक्टर की तरफ से 2 लाख रुपए ऑनलाइन ट्रांसफर किए गए, बाकी 33 लाख की रकम के लिए अगले दिन 5 बजे तक मोहलत दी गई। इसमें थाने की आईओ की भूमिका पर संगीन आरोप लगे हैं। लड़की के बयान पर डॉक्टर के खिलाफ रेप व अन्य धाराओं में केस दर्ज हुआ है, वहीं, एक्सटॉर्शन को लेकर डॉक्टर के बयान पर भी एक एफआईआर दर्ज की गई है।

दिल्ली विधानसभा का दो दिवसीय मासून सत्र आज से, इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

'पुलिसवालों ने केस को निपटवाने का भी भरोसा दिया'
जानकारी के मुताबिक, शिकायतकर्ता लड़की परिवार के साथ जहांगीरपुरी इलाके में रहती है। जबकि जिस डॉक्टर पर आरोप लगा है, वह विकासपुरी इलाके में रहता है। बुधवार को महेंद्रा पार्क थाने में दर्ज करवाई एफआईआर  में डॉक्टर ने आरोप लगाया कि 26 जुलाई की रात को थाने से एक सब इंस्पेक्टर और दो हेड कांस्टेबल आए और उसे बताया कि एक लड़की ने उस पर रेप आदि के संगीन आरोप लगाए हैं। पुलिसवालों ने केस को निपटवाने का भी भरोसा दिया था। 

सब इंस्पेक्टर रचना के सामने हुई डील
एसएचओ ने डॉक्टर से थोड़ी पूछताछ के बाद आईओ सब इंस्पेक्टर रचना के पास भेज दिया। सब इंस्पेक्टर रचना के रूम में पहले से ही आरोप लगाने वाली लड़की समेत तीन लोग बैठे हुए थे। उन लोगों ने 35 लाख रुपए की डिमांड रखी और कहा कि अगर पैसे दे दोगे तो वह अपनी शिकायत वापस ले लेंगे। जब उनको बोला गया कि इतनी रकम उसके पास अभी नही है। उनको दो लाख रुपए पहले नकद देने के लिए कहा। बाद में यही रकम को ऑनलाइन ले लिया गया। यह रुपए सब इंस्पेक्टर के सामने दिए गए। बाकी रकम डॉक्टर को पांच दिन के अंदर देने की बात कही गई। 

कांग्रेस ने राकेश अस्थाना की नियुक्ति पर उठाए सवाल, सुप्रीम कोर्ट का दिया हवाला

डॉक्टर के खिलाफ रेप, धमकी व अन्य धाराओं में केस दर्ज 
आरोप लगाने वाली लड़की के साथ आए उन लोगों ने आईओ रचना को लिखित में दिया कि वह अपनी कम्प्लेंट अगले दिन शाम 5 बजे तक रोकना चाहते हैं। डॉक्टर को बाकी रकम का इंतजाम करने को कहा। इसके बाद आईओ ने डॉक्टर को छोड़ दिया। आईकार्ड जमा करा लिया। वहीं, आरोप लगाने वाली लड़की के बयान पर डॉक्टर के खिलाफ रेप, धमकी व अन्य धाराओं में केस दर्ज हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.