Wednesday, Jan 22, 2020
Delhi Metro mother suicide at Inderlok metro station

दिल्ली: मेट्रो की पटरी पर उतरी मां ,10 साल के बच्चे ने कुछ ऐसे बचाई जान

  • Updated on 8/3/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पर एक बच्चे की सूझबूझ से बड़ा और दर्दनाक हादसा होते-होते बच गया। हुआ यों कि एक महिला अपने दो बच्चों के साथ पटरियों पर खुदकुशी करने जा रही थी कि एक बच्चे ने अपनी मां से हाथ जबरन छुड़ाया और दौड़कर पास ही खड़े सुरक्षा जवानों को इसकी जानकारी दी। जवानों ने समय रहते महिला को बचा लिया और मामला पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

यह महिला अपने मकान मालिक द्वारा यौन शोषण से परेशान थी। महिला अपने दो बच्चों के साथ आत्महत्या करने इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पहुंच गई। वह मेट्रो के आगे छलांग लगा पाती कि इससे पहले ही महिला के बेटे ने हाथ छुड़ा कर मां द्वारा खुदकुशी के लिए मेट्रो के आगे कूदने की मंशा की जानकारी स्टेशन पर मौजूद सीआइएसएफ  के जवानों को दे दी। जवानों ने तत्परता दिखाते हुए महिला को आत्महत्या करने से बचा लिया। महिला को मेट्रो पुलिस के हवाले कर दिया गया। 


अधिकारियों द्वारा पूछताछ में महिला ने अपने मकान मालिक पर यौन शोषण का लगाया है। उसने बताया कि मालिक की ज्यादतियों से परेशान होकर वह यह कदम उठाने जा रही थी। घटना एक अगस्त की सुबह करीब 10:50 की है। 31 वर्षीय एक महिला अपने 10 वर्ष के बेटे और 12 वर्ष की बेटी के साथ इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पर पहुंची थी। वह अपने बच्चों समेत प्लेटफार्म संख्या-3 पर मेट्रो ट्रेन के सामने कूदना चाहती थी। महिला अपने दो बच्चों के साथ मोती नगर इलाके में किराऐ के मकान में रहती है। उसके पति आस्ट्रेलिया में काम करते हैं। वह अपने दोनों बच्चों को लेकर मोती नगर इलाके में किराए के मकान में रहती हैं। महिला का आरोप है कि पति की गैर मौजूदगी में मकान मालिक ने उसका यौन उत्पीडऩ किया है। 


डिप्रेशन में आ गई थी महिला 
महिला का कहना है इसकी शिकायत उन्होंने मोती नगर थाने में भी की। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। काफी समय तक मकान मालिक की ज्यादतियां सहने के बाद महिला मानसिक रूप से इतनी परेशान हो गई कि वह मकान मालिक से पीछा छुड़ाने के लिए मेट्रो ट्रेन के सामने कूदने जा रही थी। 


बेटे ने सीआईएसएफ जवानों को दी सूचना
इसी दौरान मां की मंशा भांपकर बेटा हाथ छुड़ाकर वहां से भाग गया और स्टेशन पर मौजूद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों को पूरा वाकया बताया। बल के जवानों ने महिला को पकड़ लिया व कंट्रोल रूम में ले गए और घटना की सूचना मेट्रो पुलिस को दी। हालांकि स्थानीय पुलिस अधिकारी का कहना है कि महिला की मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही है। इसलिए उसे इलाज के लिए इहबास अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है, और मामला दर्ज कर कार्रवाई भी होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.