Thursday, Dec 09, 2021
-->
delhi police arrested 7 persons for selling fake black fungus injections kmbsnt

Delhi Crime: नकली ब्लैक फंगस के इंजेक्शन बनाने वाले 2 डॉक्टर्स समेत 7 गिरफ्तार

  • Updated on 6/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने नकली ब्लैक फंगस लिपोसोमल एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन बनाने और बेचने के आरोप में 2 डॉक्टरों सहित 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने  निजामुद्दीन स्थित डॉ अल्तमस हुसैन के आवास सेनकली 'इंजेक्शन' की 3293 शीशियां बरामद की है। 

बता दें कि कोरोना संकट के बीच ब्लैक फंगस के मामले भी बढ़ने लगे हैं। ऐसे में इसके उपचार में काम आने वाले इंजेक्शन की कमी बाजारों में होने लगी है। इस पर दिल्ली हाईकोर्ट भी सुनवाई कर चुकी है। इंजेक्शन की कमी का फायदा उठाकर ये डॉक्टर्स नकली इंजेक्शन बनाकर मार्केट में बेच रहे थे। 

बड़ा ऐलान! 6 शहीदों के परिवारों को 1 करोड़ की सम्मान राशि देगी केजरीवाल सरकार

कुछ समय पहले LNJP में ब्लैक फंगस के इंजेक्शन से हुए थे साइड इफेक्ट 
बता दें कि कुछ समय पहले ही दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजों में एम्फोटेरिसिन-बी इमल्शन इंजेक्शन के साइड इफेक्ट का मामला सामने आया है। अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर का कहना है कि अस्पताल में ब्लैक फंगस के भर्ती मरीजों को एम्फोटेरिसिन-बी इमल्शन इंजेक्शन जैसे ही शनिवार को दिया गया वैसे ही सभी मरीजों में साइड इफेक्ट्स देखने को मिलने लगे। उस दौरान अस्पताल प्रशासन ने इस इंजेक्शन को देने से रोक लगा दी थी।

दिल्ली: जल्द शुरू होने जा रही 'जय भीम मुख्यमंत्री योजना' की कक्षाएं, जानें कैसी है तैयारी

दिल्ली हाईकोर्ट ने दवा वितरण पर केंद्र और दिल्ली सरकार को दिए थे ये निर्देश 
वहीं ब्लैक फंगस के शिकार रोगियों के उपचार में उपयोगी दवा के वितरण पर केंद्र और दिल्ली सरकार से नीति बनाने को कहा था। कोर्ट ने केंद्र व दिल्ली सरकार से कहा कि वह ब्लैक फंगस से पीड़ित रोगियों के उपचार में काम आने वाली दवा एम्फोटेरिसिन-बी के वितरण पर एक नीति तैयार करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.