Wednesday, Mar 29, 2023
-->
dr. khalif of safdarjung hospital changed his name to befriend

सफदरजंग अस्पताल के डॉ. खालीफ ने नाम बदलकर की दोस्ती, किया रेप

  • Updated on 2/4/2023

नई दिल्ली/मुकेश ठाकुर। दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में रह कर डीयू से कानून की पढाई कर रही एक छात्रा से सफदरजंग अस्पताल में कार्यरत एक डॉक्टर ने रेप की वारदात को अंजाम दिया है। पीड़िता मूल रूप से असम की रहने वाली है। आरोपी ने पीड़िता से नाम बदलकर पहले दोस्ती की फिर कोल्ड कॉफी में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद होटल में ले जाकर उसके साथ रेप किया। बाद में शादी करने का झांसा देने लगा।

अंतत: जब काफी समय तक आरोपी पीड़िता को टालता रहा तो, पीडिता ने आरोपी के खिलाफ लाजपत नगर थाने में शिकायत दी, जहां पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी डॉ एलए खालीफुजमान उर्फ खालीफ संबंधित धारा में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस अधिकारी के अनुसार 28 वर्षीय पीड़िता मूल रूप से असम की रहने वाली है। वह पिछले चार साल से करोल बाग में रहकर दिल्ली यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई कर रही है। साथ ही यूपीएससी की तैयारी कर रही है। पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में बताया कि वह यूपीएससी की तैयारी के दौरान लाजपत नगर आती रहती है।

गत वर्ष 16 दिसम्बर को वह लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट गई थी। जहां उसे आरोपी मिला था। उस दौरान उसने अपना नाम अमर भट्ट बताया। उसने बताया कि वह सफदरजंग अस्पताल में डॉक्टर है। दोनों बर्गर खाने के लिए एक रेस्टोरेंट में गए जहां बर्गर खाया। इसके बाद आरोपी ने कोल्ड कॉफी अर्डर किया, जिसे पीने के बाद वह बेसुध हो गई। इसके बाद आरोपी ने उसी के मोबाइल से एक होटल बुक कर उसे वहां ले गया और उसके साथ रेप किया।

होश आने पर उसने पीड़िता को शादी करने का वादा कर इसकी शिकायत न करने को लेकर मना लिया। उसकी बातों में आकर वह मान गई और कुछ दिनों बाद छुट्टी में अपने घर चली गई। 5 जनवरी को वह वापस दिल्ली लौटी। जहां उसने आरोपी से मिलने और फोन पर बात करने की कोशिश की तो आरोपी ने कोई जवाब नहीं दिया।

अस्पताल पहुंचने पर पता चला असली नाम

आरोपी द्वारा फोन नहीं उठाने पर पीड़िता ने किसी प्रकार अस्पताल में संपर्क किया। जहां पता चला कि उसका नाम अमर नहीं डॉ. खालिफ है। इसकी जानकारी मिलने पर आरोपी ने उसे फोन कर लोधी गार्डन बुलाया और वहां उसे दोबारा सम्पर्क करने पर जान से मारने की धमकी दी।

इसके बाद पीड़िता मोती नगर स्थित एक डायग्नोस्टिक सेंटर पहुंची और उसकी जानकारी जुटाई। जिसकी सूचना मिलने पर आरोपी उसके घर जा पहुंचा और उसके बाद मारपीट करने के साथ ही दोबारा जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस पर भी लगाया लापरवाही का आरोप

पीड़िता का कहना है कि आरोपी द्वारा मारपीट किए जाने व जान से मारने की धमकी मिलने के बाद वह 21 जनवरी को लाजपत नगर थाने में पहुंच उसकी शिकायत दी। पर उल्टा उसे ही पुलिस थाने में घंटों बिठाए रखा, इसके बाद भी पहले कोई कार्रवाई नहीं की। बल्कि आरोपी से सुलह कराने के लिए दबाव बनाया।

इस दौरान आरोपी ने पुलिस के सामने लिखकर दिया कि वह पीड़िता के सामने लिव-इन में रहेगा। लेकिन 24 जनवरी को आरोपी खालिफ फरार हो गया। पीड़िता दोबारा थाने गई और उच्च अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई। जिसके बाद 26 जनवरी को पीडि़ता की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की गई। फिलहाल मामले में आरोपी डॉक्टर फरार बताया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.