Sunday, Nov 28, 2021
-->
driver-arrested-for-hitting-bike-of-delhi-police-head-constable

दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल की बाइक में टक्कर मारने वाला चालक गिरफ्तार

  • Updated on 10/19/2021

दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल की बाइक में टक्कर मारने वाला तालक गिरफ्तार

- 14 अक्तूबर की रात टाटा एस चालक ने मारी थी टक्कर, हादसे में हो गई थी मौत 

- 200 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाल पुलिस ने चालक को किया गिरफ्तार

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

 

पश्चिमी दिल्ली के नरायणा इलाके में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल की बाइक में टक्कर मार फरार हो जाने वाले चालक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 14 अक्तूबर की रात हुए इस हादसे में बाइक सवार हेड कांस्टेबल की नवल किशोर मीणा की गंभीर चोटें लगने से मौत हो गई थी। वहीं हादसे के बाद आरोपी वाहन चालक मौके से फरार हो गया था। पुलिस आरोपी वाहन चालक की टेक्निकल सर्विलांस के माध्यम से तलाश शुरू की गई थी। इसमें दो सौ से अधिक सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को खंगालने के बाद आखिर कार 28 वर्षीय रिंकू हजारा को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही उस टाटा एस टैंपो भी जब्त कर लिया है, जिससे हादसे को अंजाम दिया गया था। 

डीसीपी उर्वीजा गोयल ने बताया कि 24 अक्तूबर की रात करीब 11 बजे नरायणा पुलिस को सूचना मिली थी कि रिंग रोड बरार एसक्वायर के पास एक पुलिस कर्मी की बाइक में अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी है। मौके पर पहुंची पुलिस टीम को खून से लथपथ हेड कांस्टेबल मिले। तत्काल उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस की एक टीम बना इसकी जांच शुरू की गई। टीम ने घटना स्थल के आस पास के करीब 200 सीसीटीवी रात 10 से 11 बजे के फुटेज निकाले, जिसमें हाई स्पीड वाले 16 वाहनों की पहचान की गई। इसके बाद उनमें से संभावित 7 वाहनों को अलग कर उन्हें पूछताछ के लिए थाना बुलाया गया। पर कुछ सुराग नहीं मिला। इसी दौरान पूछताछ मे पता चला एक टाटा एस के चालक ने अपने स्थान पर किसी और को भेज दिया है। इसके बाद पुलिस ने उसके चालक रिंकू को थाने बुलाकर पूछताछ की। पहले तो वह पुलिस को बरगलाता रहा, पर बाद में उसने उसी के द्वारा हदसे को अंजाम दिए जाने की बात स्वीकार कर ली। उसने बताया कि हादसे के समय वह रोहिणी से गुरुग्राम जा रहा था। उसके टैंपो की रफ्तार काफी तेज थी इसी कारण नियंत्रण खो कर उसने बाइक में टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद वह अपनी गाड़ी लेकर अपने गुरुग्राम के कंपनी में चला गया और पुलिस का फोन आने पर बचने के लिए अपने कर्मी को भेज दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.